कलेक्ट्रेट परिसर के 10 किमी के दायरे में 17294 लोग संक्रमितों के संपर्क में आए; जनसंपर्क कार्यालय का आधा स्टाफ पॉजिटिव , September 03, 2020 at 11:31AM

छत्तीसगढ़ के रायपुर में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना के रिकॉर्ड 975 मरीज मिले हैं। इसके बाद रायपुर में एक्टिव केस बढ़कर 7344 हो गई है। जबकि 155 मरीजों की मौत हो चुकी है। जनसंपर्क विभाग का आधा स्टाफ भी कोरोना संक्रमित हो चुका है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, जनसंपर्क संचालनालय और संवाद बिल्डिंग में कार्यरत 50%से ज्यादा अधिकारी व कर्मचारी संक्रमित हो चुके हैं।

कोरोना संक्रमण की जांच के लिए लोग खुद से भी आगे आ रहे हैं। यह तस्वीर पंडरी जिला अस्पताल की है। जहां सैंपल देने के लिए लोगों की लाइन लगी है।

जिला प्रशासन ने कहा- दिक्कत होने पर कोविड जांच कराएं
आरोग्य सेतु एप के जरिए कलेक्ट्रेट परिसर के 10 किमी के दायरे में 17294 लोगों के पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में आने की जानकारी मिली है। इसके बाद जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। कहा गया है, अगर आपका आरोग्य सेतु स्टेटस हाई रिस्क है तो खुद को आइसोलेट कर लें। किसी प्रकार के लक्षण होने पर निर्धारित केंद्रों में जाकर तत्काल कोविड-19 जांच कराएं।

सैनिटाइजर मशीन बनाकर लोगों की सेवा कर रहे थे, हुए संक्रमित

रायपुर के वार्ड 43 से पार्षद और शिक्षा खेलकूद एवं युवा कल्याण विभाग अध्यक्ष जितेंद्र अग्रवाल लॉकडाउन के दौरान काफी चर्चा में थे। उन्होंने शादियों में ठंडी हवा देने वाले पंखे को सैनिटाइजर मशीन में बदल दिया था। इसके बाद सड़क पर इसे लगाया गया, जो हर किसी आने-जाने वाले को सैनिटाइज करती। अब जितेंद्र खुद पिछले 4 दिनों से कोरोना की चपेट में हैं।

रायपुर के वार्ड 43 से पार्षद जितेंद्र अग्रवाल सैनिटाइजर मशीन के साथ। शादी में काम आने वाले पंखे को नया रूप देकर सेवा कर रहे थे। अब खुद संक्रमित हो गए हैं।

तीन दिन पहले जनसंपर्क आयुक्त भी हुए हैं संक्रमित
राज्य सरकार की योजनाओं का प्रचार-प्रसार करने वाले जनसंपर्क विभाग में कोरोना संक्रमण के केस बढ़ गए हैं। अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ ही ज्यादातर के परिवार के सदस्य भी संक्रमित हो गए हैं। तीन दिन पहले जनसंपर्क आयुक्त तारन प्रकाश सिन्हा भी पॉजिटिव मिले थे। इसके बाद से वो होम आइसोलेशन में हैं। आशंका जताई जा रही है कि वहां शुक्रवार से काम बंद हो सकता है।

राज्य सरकार ने सभी सरकारी स्कूलों में छात्रों को निशुल्क प्रवेश देने के निर्देश दिए हैं। आदेश में कहा गया है, स्कूलों के बंद रहने तक किसी भी छात्र से कोई भी शुल्क नहीं लिया जाएगा।

सभी सरकारी स्कूलों को निशुल्क प्रवेश के आदेश
राज्य सरकार ने सभी सरकारी स्कूलों में छात्रों को निशुल्क प्रवेश देने के निर्देश दिए हैं। संचालक लोक शिक्षण की ओर से जारी आदेश में कहा गया है, कुछ जिलों से यह शिकायत मिल रही है कि प्रवेश के दौरान एएफ, पीबीएफ, स्काउट, रेडक्रॉस, स्कूल विकास के नाम पर शुल्क लिया जा रहा है। आदेश में कहा गया है, स्कूलों के बंद रहने तक किसी भी छात्र से कोई भी शुल्क नहीं लिया जाएगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ये तस्वीर छत्तीसगढ़ के रायपुर में काली बाड़ी में बनाए गए कोविड टेस्ट सेंटर की है। स्वास्थ्य विभाग ने जांच के लिए सेंटर तो बनाया है, लेकिन कोविड नियमों का पालन ही नहीं करा पा रहा है। सैंपल देने के लिए उमड़ी भीड़ और सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ती धज्जियां साफ देखी जा सकती हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2QRA4HS

0 komentar