लाॅकडाउन के बीच शराब पार्टी और फायरिंग, रसूखदार परिवारों के युवक-युवतियों समेत 14 के खिलाफ केस , September 29, 2020 at 05:52AM

लॉकडाउन में वीआईपी रोड के क्वींस क्लब में रविवार देर रात बर्थडे के नाम पर शराब पार्टी और इस दौरान हवाई फायर के मामले में पुलिस ने सख्त कार्रवाई की है। मामले में पुलिस ने शहर के चर्चित कारोबारियों, युवा नेता समेत 14 लोगों पर केस दर्ज किया है। इसमें से 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया। गोली चलाने वाले एनआरआई के खिलाफ हत्या की कोशिश की कार्रवाई की गई। उनका लाइसेंसी पिस्टल जब्त किया गया है। घटना के दूसरे दिन सोमवार सुबह 11.30 बजे प्रशासन और पुलिस की टीम क्लब की जांच करने गई थी। जहां कमरा नंबर 206 में शराब की बोतल और खाने-पीने का सामान मिला है। प्रशासन ने क्लब को सील कर दिया है। इधर एसएसपी अजय यादव ने क्लब का लाइसेंस निरस्त करने के लिए कलेक्टर को चिट्ठी लिखी है। आबकारी विभाग को भी पत्र लिखकर उचित कार्रवाई करने को कहा गया हैं।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इस मामले में दो अलग-अलग केस दर्ज किया गया है। बीएसपी के ठेकेदार और एनआरआई हितेश भाई पटेल पर हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया गया है। क्लब संचालक, मैनेजर, पार्टी के लिए कमरे बुक करने वाले और पार्टी में शामिल कुल 13 लोगों पर आदेश उल्लंघन, आपदा प्रबंधन एक्ट, महामारी एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। पुलिस ने मौके से हितेश पटेल के अलावा, डायरेक्टर मेंबर बिल्डर हर्षित सिंघानिया, मैनेजर सूरज शर्मा, असिस्टेंट मैनेजर संस्कार पाचे और करन सोनवानी को गिरफ्तार किया हैं।
एएसपी लखन पटले ने बताया कि क्लब कारोबारी सौरभ बत्रा और उनके भाई के नाम पर है। उन्होंने लीज में शहर के कारोबारियों को दिया है। इसमें बिल्डर सुबोध सिंघानिया का भी नाम सामने आया है।

इन पर केस दर्ज
तेलीबांधा पुलिस ने क्वींस क्लब के संचालक बिल्डर हर्षित सिंघानिया, मिनाली सिंघानिया, नमित जैन, चम्पालाल जैन, नेहा जैन, मैनेजर सूरज शर्मा, असिस्टेंट मैनेजर संस्कार पाचे, कमरे बुक कराने वाले अमित धवल, मिनल, पार्टी में आए राजवीर सिंह, अभिजीत कौर निरंकारी, ट्विंकल सिंह, करण सोनवानी और हितेश पटेल पर केस दर्ज किया है। सभी को नोटिस जारी किया गया हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
पुलिस ने सोमवार को चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/30hmsun

0 komentar