150 लोगों के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया केस, गो तस्करी की वजह से दो दिन पहले उपजा था विवाद , September 18, 2020 at 06:21AM

जशपुर जिले में पुलिस ने 150 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। आस्ता थाना इलाके में बीते मंगलवार को गौ तस्करी के मामले में हुए बवाल के बाद पुलिस ने दूसरे दिन 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। गुरुवार को ग्रामीण फिर एक जुट होकर धरना देने की तैयारी में थे, पुलिस के साथ लोगों का विवाद भी हुआ अब ग्रामीणों के खिलाफ एफआइआर की गई है। हालात इतने तनाव ग्रस्त हो गए कि पुलिस को यहां फ्लैग मार्च निकालना पड़ा।

यह है मामला
मंगलवार को मवेशी तस्करी को लेकर आस्ता के खमली और अमगाव में 2 पक्षों के बीच हुई मार पीट के बाद आस्ता थाने में कई घण्टों तक सैकड़ों लोगों ने हंगामा किया था। दरअसल, लोगों ने कुछ गाड़ियों में ले जाए जा रहे मवेशियों को उतरवा दिया, गो तस्करी के आरोप लगाकर गाड़ी के चालकों को पीट दिया। बदले में गायों को ले जाने वाले भी अपने साथियों के साथ आकर मारपीट करने लगे थे। पुलिस ने इस केस में खम्हली गांव के 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। मंगलवार की रात से ही आस्ता क्षेत्र में तनाव की स्थिति बनी हुई थी। गुरुवार को हंगामा बढ़ा तो पुलिस ने सख्ती की।

आईजी का आदेश गो रक्षा के नाम पर गुंडागर्दी नहीं चलेगी
आईजी सरगुजा रतन लाल डांगी ने सभी पुलिस अधीक्षकों को गो तस्करी में लिप्त लोगों पर कार्रवाई करने को कहा है। आईजी ने अपने आदेश में यह भी कहा है कि गौरक्षा के नाम जो लोग गुंडागर्दी करते हैं, अवैध वसूली करते हैं उन्हें भी ना छोड़ा जाए। ऐसे लोगों के विरुद्ध सख्त कानूनी कदम उठाया जाए। आईजी ने लापरवाही पर एसपी और थाना प्रभारियों को कार्रवाई की चेतावनी तक दे डाली है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फोटो आस्ता गांव की है। गांवों के बीच के झगड़े में धार्मिक तनाव को हवा देने की कोशिश जारी है हालांकि प्रशासन ऐसी बातों को अफवाह बता रहा है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/32FsFCg

0 komentar