163 बीमार... एक की मौत, पूंजीपथरा टीआई एआर इस्पात के 20 कर्मी कोरोना पॉजिटिव , September 07, 2020 at 05:07AM

रविवार को जिले में 163 कोरोना संक्रमित मिले हैं। जिसमें 137 आरटीपीसीआर, 21 एंटीजन और 5 लोग ट्रू-नेट लैब की जांच में संक्रमित पाए गए हैं। सारंगढ़ में एक संक्रमित की माैत हाे गई। पूंजीपथरा थाना प्रभारी सहित सीएचसी सारंगढ़ की सात नर्स संक्रमित मिली हैं। सीएमएचओ डा. एसएन केशरी ने बताया कि अब काेराेना संक्रमित मरीजाें काे अधिक से अधिक हाेम आइसाेलेशन में रखने की व्यवस्था की जानी है। मरीजाें की निगरानी व देखरेख के लिए टीमें लगाई जाएगी।

रविवार को मेडिकल कॉलेज से आई रिपोर्ट में मेडिकल कालेज और मेकाहारा में एक-एक स्टाफ के साथ ही सूपा से 16, चूना भट्ठा काेतरा राेड से चार मरीज मिले हैं। सिंधी कॉलाेनी के 6 प्राची बिहार से चार लोग संक्रमित पाए गए हैं। अजय रोलिंग-3, गेरवानी पूंजीपथरा-1, किरोड़ीमल नगर-1, जगन्नाथपुर-2, जेलपारा-3 सहित छाेटे भंडार, लाेचननगर, खैरपारा, लाेइंग, बजरंगपारा रेलवे कालाेनी, साेनूमुड़ा, पुलिस लाइन,अतरमुड़ा में भी एक एक संक्रमित मिले हैं। सभी संक्रमित लाेगाें के संपर्क में आए लाेगाें की जांच के साथ लक्षण वाले मरीजाें काे काेविड हास्पिटल में भर्ती कराया जा रहा है।

सारंगढ़ में फिर बढ़ा खतरा 7 नर्स संक्रमित, एक माैत

सारंगढ़ ब्लाक के छाेटे खैरा में सैकड़ाे लाेग संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद सख्ती बरती गई लाेगाें काे घराें से निकलने पर राेक लगाई। सारंगढ़ में फिर मरीज मिलने शुरू हुए हैं । रविवार काे सीएचसी में 7 नर्स सहित 14 लोग संक्रमित मिले हैं। जिसमें जनपद पंचायत के तीन लोग शामिल हैं । वहीं एक युवक की हालत बिगड़ने पर अस्पताल लाया गया। जहां इलाज के दाैरान उसकी माैत हाे गई। एंटीजन जांच में उसकी रिपाेर्ट पॉजिटिव बताई गई है।

7 पॉजिटिव, मंगलवार तक बंद रहेगा स्वास्थ्य विभाग ऑफिस

शनिवार काे सीएमएचओ दफ्तर के सात कर्मचारी संक्रमित मिले थे। जिसके बाद रविवार काे उनके संपर्क में आए काफी लाेगाें की जांच कराई गई। एहतियात के ताैर पर सोमवार और मंगलवार के लिए सीएमएचआे दफ्तर काे बंद करा दिया गया है। सीएमएचओ डा. एसएन केशरी ने बताया कि एक साथ कई कर्मचारियाें के संक्रमित मिलने के बाद सभी काे घर से काम करने के निर्देश दिए गए है।

बाहर से आए 20 कर्मचारी चपेट में

पूंजीपथरा के थानेदार संक्रमित पाए गए हैं वहीं पूंजीपथरा के एक उद्योग एआर इस्पात में काम करने के लिए बुलाए गए 20 कर्मचारी कोरोना संक्रमित मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक ये लोग बाहर से आए थे और क्वारेंटाइन किए गए थे। जांच में ये सभी संक्रमित पाए गए हैं। इसके साथ ही हाउसिंग कॉलोनी के 5 लोग भी चपेट में आए हैं। कोरोना का कहर हर तरफ दिख रहा है। जिला प्रशासन ने बिना अनुमति बाहर से कामगारों को बुलाने पर रोक लगाई हुई है। वहीं ऐसे लोग भी संक्रमित मिल रहे हैं जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है।

मेकाहारा बना रहा हॉटस्पॉट

​​​​​​​मेकाहारा अभी कोरोना का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बना हुआ है। रविवार को यहां 16 संक्रमित मिले। सबसे बड़े अस्पताल में भले ही स्वास्थ्य विभाग और मेडिकल कॉलेज प्रबंधन तमाम एहतियात बरतने के दावे करता हो लेकिन मरीजों की भीड़ के कारण कोरोना से बचना मुश्किल हो रहा है। बिना लक्षण के मरीज आने और कई गंभीर मरीजों का तुरंत इलाज करने के कारण जरूरी जांच नहीं हो पाती है। इसलिए डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ लगातार संक्रमित हो रहे हैं। कोरोना वारियर्स का लगातार बीमार होना खतरे की घंटी है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
लगातार बढ़ते मरीजों के कारण कोविड केयर सेंटर में अब खाली नहीं दिखते बेड।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Zf8Mj5

0 komentar