मरवाही में 3 नवंबर को उपचुनाव और नतीजा 10 को, अगर वोटर को बुखार तो सबके बाद करेगा मतदान , September 30, 2020 at 06:21AM

मरवाही विधानसभा सीट पर उपचुनाव 3 नवंबर को होगा, जबकि नतीजा 10 नवंबर को आएगा। यह कोरोना संक्रमण के बीच छत्तीसगढ़ में पहला चुनाव होगा। इसकी वजह से इस उपचुनाव में आयोग ने वोटर्स को संक्रमण से बचाने कई बदलाव किए हैं। वोटिंग के एक दिन पहले सभी मतदान केंद्रों को सैनिटाइज किया जाएगा। मतदान केंद्र में वोटरों की थर्मल स्क्रीनिंग भी होगी। ऐसे मतदाता, जिनका तापमान ज्यादा रहेगा वो सबसे आखिरी में बचे हुए एक घंटे में ही वोट डाल पाएंगे। मतदाताओं को हाथ धोने के लिए मतदान केंद्र के एंट्री गेट पर साबुन पानी और सैनिटाइजर का बंदोबस्त भी रहेगा। फिजिकल दूरी के लिए हर बूथ पर वर्गाकार डिब्बे भी बनाए जाएंगे। कतार में हर मतदाता के बीच 6 फीट का फासला होगा। वोटर्स को हैंडग्लब्स भी दिए जाएंगे। 9 से 16 अक्टूबर तक नामांकन पत्र भरे जा सकेंगे। 17 अक्टूबर को नामांकन पत्रों की जांच होगी, उम्मीदवार 19 अक्टूबर तक नाम वापस ले सकेंगे।

दरअसल, यह सीट पूर्व सीएम अजीत जोगी के निधन के बाद खाली हुई है। 237 मूल मतदान केंद्रों के अलावा 49 सहायक पोलिंग बूथ भी बनाए गए हैं। एक मतदान केंद्र में अधिकतम एक हजार वोटर रहेंगे। 2018 के विधान सभा के दौरान यहां 237 पोलिंग बूथ बनाए गये थे। इस बार 286 बूथों पर वोटिंग होगी इनमें 126 संवेदनशील मतदान केंद्र हैं।

1.90 लाख वोटर इनमें महिला ज्यादा
इस उपचुनाव में 1 लाख 90 हजार से ज्यादा वोटर मताधिकार का उपयोग करेंगे। महिला वोटरों की तादाद यहां पुरुष और थर्ड जेंडर से ज्यादा है। 97 हजार से अधिक महिला, 93 हजार से ज्यादा पुरुष और चार थर्ड जेंडर वोटर हैं। 4211 वोटर नये मतदाता हैं जो पहली बार वोट देंगे। 14 सौ से ज्यादा मतदाता 80 साल या इससे ज्यादा उम्र के हैं। 18 सौ दिव्यांग और 201 सर्विस वोटर है। सारे वोटर ग्रामीण इलाकों के हैं। 2018 के विधानसभा चुनाव में 1 लाख 84 हजार वोटर थे।

जमानत राशि 5 हजार
आरक्षित सीट होने के कारण यहां जमानत राशि 5 हजार रुपए है। नामांकन दाखिल करते वक्त केवल दो लोग ही उम्मीदवार के साथ रिटर्निंग अफसर के कक्ष में जा सकेंगे। पहले चार लोगो को अनुमति रहा करती थी। 100 मीटर के दायरे के बाहर ही प्रत्याशी के वाहन रहेंगे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
प्रतीकात्मक फोटो।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3ievC0U

0 komentar