3 दिन में ही ई-पास की 800 अर्जियां, जरुरी कारण होने पर ही आवेदन मंजूर , September 25, 2020 at 05:47AM

लाॅकडाउन लगते ही राजधानी और जिले से बाहर आने-जाने के लिए प्रशासन के पास ई-पास के आवेदनों की बाढ़ आ गई है। ई-पास के आवेदन की प्रक्रिया पूरी तरह ऑनलाइन है। इसके बावजूद, 3 दिन में 800 से ज्यादा लोगों ने ई-पास के लिए आवेदन कर दिया है। अधिकांश को ई-पास दे भी दिया गया, क्योंकि गंभीर कारण बताए गए थे। कुछ आवेदन रिजेक्ट किए गए हैं, जिनमें ऐसे कारण बताए गए थे जिनके लिए शहर या जिले से बाहर जाना जरूरी नहीं है।
प्रशासन ने तय किया है कि जरूरी कामों के लिए ही ई-पास दिए जाएंगे। मेडिकल इमरजेंसी, मृत्यु या अतिआवश्यक काम होने पर ही आवेदन ही मंजूर किए जा रहे हैं। ऐसे आवेदन जिनमें ठोस कारण नहीं हैं, उन्हें रिजेक्ट भी किया जा रहा है। इस बार आवेदन के साथ ही मेडिकल या वे दस्तावेज स्कैन कर अपलोड करना जरूरी है, जिसकी वजह से जिले से बाहर जाना है। बिना दस्तावेज वाले आवेदन स्वीकार ही नहीं किए जा रहे हैं।

भास्कर नाॅलेज - ऐसे मिलेगा ई-पास

  • लॉकडाउन में फंसे लोगों के लिए स्वयं की गाड़ियों से दूसरे राज्य में जाने के लिए ई-पास एप्लीकेशन और वेबसाइट बनाई गई है।
  • ऑनलाइन आवेदन करते समय आवेदकों को व्यक्तिगत विवरण, यात्रा के संबंध में विस्तृत जानकारी, गाड़ी नंबर दर्ज कराना होगा।
  • एप्लीकेशन डाउनलोड करने https://ift.tt/2RxD8JO. लिंक पर जाना होगा।
  • दूसरे राज्यों में जाने इंटर स्टेट ई-पास ले सकते हैं। इसके लिए https://ift.tt/3fRVGiD पर जाकर ब्योरा दर्ज करवाना होगा।
  • लॉकडाउन सख्त होने से एप -वेबसाइट पर आवेदन करते समय बाहर जाने के कारणों का प्रमाण यानी दस्तावेज भी अपलोड करेंगे।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फाइल फोटो।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3cwuUL6

0 komentar