केंद्रीय मंत्री रेणुका संक्रमित, 3450 नए केस; भाजपा नेता प्रजापति समेत 15 मौतें , September 16, 2020 at 05:42AM

छत्तीसगढ़ में कोरोना बेकाबू होता जा रहा है। मंगलवार को प्रदेश में सर्वाधिक 3450 नए मरीज मिले हैं। वहीं रायपुर में भी पहली बार सबसे ज्यादा 1015 केस मिले। केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह नई दिल्ली में कोरोना संक्रमित हो गई हैं। उन्होंने सोशल मीडिया में यह जानकारी खुद दी है। जंगल सफारी की डीएफओ एम मर्सी बेला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इधर, शंकर नगर के पूर्व पार्षद व वर्तमान जिला भाजपा उपाध्यक्ष मनोज प्रजापति की कोरोना से मौत हो गई। कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद उनका इलाज शहर के प्राइवेट अस्पताल में चल रहा था। कोरोना से पिछले 24 घंटे में प्रदेश में 15 मरीजों की मृत्यु हुई है, जिनमें 10 रायपुर के हैं। इसे मिलाकर अब तक 589 लोगों की जान गई है, जिसमें 278 रायपुर के हैं। अब प्रदेश में मरीजों की संख्या 70779 और एक्टिव केस 35951 हो गए हैं। रायपुर में मरीजों की संख्या 23621 है। वहीं पिछले 24 घंटे में 773 मरीजों को डिस्चार्ज भी किया गया। अब तक 34238 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। प्रदेश में औसतन रोजाना 20 हजार सैंपल की जांच होने लगी है। आने वाले दिनों में सैंपल और जांच की संख्या बढ़ाई जाएगी।

सितंबर में सबसे ज्यादा बढ़ा कोरोना का प्रकोप

  • 18 मार्च - 01 मरीज
  • 4 अगस्त - 10 हजार
  • 22 अगस्त - 20 हजार
  • 30 अगस्त - 30 हजार
  • 4 सितंबर - 40 हजार
  • 8 सितंबर - 50 हजार
  • 12 सितंबर - 60 हजार
  • 15 सितंबर - 70 हजार

रायपुर जिले के आसपास भी बढ़ रहे हैं मामले
राजधानी के बाद अब रायपुर जिले के अभनपुर, तिल्दा व धरसीवां ब्लॉक में कोरोना के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। यही नहीं दुर्ग, राजनांदगांव, बिलासपुर व रायगढ़ में भी संक्रमितों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। बस्तर, बालोद, धमतरी, सुकमा, दंतेवाड़ा, नारायणपुर, कांकेर जैसे जिलों में लगातार कोरोना के नए मरीज मिलने से प्रदेश में सितंबर के 2 दिनों में 3-3 हजार से ज्यादा मरीज मिल चुके हैं। रायपुर में मरीजों की संख्या में कमी नहीं आई है।

मृतकों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। इसीलिए कोरोना केयर सेंटर व अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड तुरंत बढ़ाने की जरूरत महसूस की जा रही है। निजी अस्पतालों में भी आईसीयू बेड की भारी कमी है। किसी भी अस्पताल में आईसीयू बेड खाली नहीं है। यही स्थिति एम्स और अंबेडकर अस्पताल की है। एम्स में केवल आईसीयू में 52 बेड हैं, जबकि अंबेडकर में आईसीयू बेड की संख्या 150 से ज्यादा है। आने वाले कुछ दिनों में 50 बेड और बढ़ाए जा रहे हैं। इससे गंभीर मरीजों के इलाज में सुविधा होगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
रायपुर के कोविड केयर सेंटर में मंगलवार को दवा के लिए मरीजों की भीड़।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2RrLzGh

0 komentar