एक दिन में मिले सर्वाधिक 3809 मरीज, 17 मौतें; दुर्ग में 20 से 30 सितंबर तक लॉकडाउन , September 18, 2020 at 06:14AM

छत्तीसगढ़ में गुरुवार को काेराेना पीड़ितों की संख्या 77 हजार पार हो गई है। प्रदेश में पहली बार सबसे ज्यादा 3809 नए मरीज मिले हैं। इसमें रायपुर के 1109 केस शामिल है, जो अब तक सर्वाधिक है। इस बीच 5226 मरीजाें को डिस्चार्ज किया गया है। इलाज के बाद अब तक 31111 लोग स्वस्थ हुए हैं। रायपुर में आठ समेत प्रदेश के अलग-अलग जिलों में 17 मरीजों की मौत हुई है। इसके साथ ही कोरोना से प्रदेश में 629 व रायपुर में 296 मरीजों की मौत हो चुकी है। नए मरीजों के साथ रायपुर में मरीजों की संख्या 25447 हो चुकी है, जबकि एक्टिव केस 36036 हैं। वहीं दुर्ग जिले में 20 से 30 सितंबर तक लॉकडाउन लगाया गया है। स्वास्थ्य विभाग के रिकार्ड के अनुसार पिछले 24 घंटे में 25921 सैंपलों की जांच की गई। अब तक 8.5 लाख सैंपलों की जांच हो चुकी है।

राजधानी समेत प्रदेश के लगभग हर जिले में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। राज्य में अब तक चार बार एक दिन में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 3000 को पार हो चुकी है। जबकि राजधानी में औसतन 800 से 900 मरीज रोजाना मिल रहे हैं। झुग्गी बस्तियों और पुराने मोहल्लों के साथ-साथ मंत्रालय, देवेंद्रनगर, शंकर नगर, अवंति विहार, सुंदरनगर, अमलीडीह व कुकुरबेड़ा इलाके में लगातार नए मरीज मिल रहे हैं। इनमें कुकुरबेड़ा में लंबे समय बाद मरीज मिले और यहां 12 नए संक्रमितों की पहचान की गई है। मरीजों के मामले में रायपुर टॉप पर चल रहा है। इसके बाद दुर्ग का नंबर है। दुर्ग में 7000 से ज्यादा मरीज मिल चुके हैं। तीसरे नंबर पर राजनांदगांव हैं, जहां 6000 से ज्यादा मरीज हैं। वहीं बिलासपुर में 5285 व रायगढ़ में 4165 मरीज हैं। इन 5 जिलों में लगातार कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। कोरोना मरीजों की मौत के मामले में रायपुर टॉप पर ही है। इसके बाद बिलासपुर, दुर्ग, रायगढ़ व राजनांदगांव में सबसे ज्यादा मरीजों की मृत्यु हुई है।


डॉ. दत्त ने कहा कि कोरोना के बाद डाक्टर समेत सभी स्टाफ को 5 दिन से लेकर हफ्तेभर का क्वारेंटाइन दिया जाएगा। इस संबंध में जल्द ही आदेश जारी किया जाएगा। गौरतलब है कि बुधवार को अंबेडकर की नर्सों ने प्रदर्शन कर डीएमई डॉ दत्त को ज्ञापन सौंपकर क्वारेंटाइन की मांग की थी। नर्सों को एक हफ्ते क्वारेंटाइन में रहने को कहा गया है। एक ही अस्पताल में अलग-अलग नियम होने से मेडिकल स्टूडेंट परेशान हैं।

इंटर्न ने मांगा 7 दिन क्वारेंटाइन
अंबेडकर अस्पताल में कोरोना ड्यूटी के बाद मेडिकल स्टूडेंट को हफ्तेभर का क्वारेंटाइन नहीं दिया जा रहा है। इसे लेकर इंटर्न छात्रों ने मेडिकल कालेज के डीन डॉ. विष्णु दत्त से मुलाकात कर कहा कि बुधवार को ड्यूटी खत्म की है। नोडल अफसर गुरुवार से सामान्य वार्ड में ड्यूटी करने को कह रहे हैं। जबकि एक हफ्ते का क्वारेंटाइन जरूरी है।

प्रदेश के इन शहरों में मिले ज्यादा मरीज

  • रायगढ़ - 329
  • दुर्ग - 322
  • बिलासपुर - 247
  • बस्तर - 225


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
दुर्गा कॉलेज में एग्जाम की आंसरशीट लेने छात्रों की भीड़, ऐसी लापरवाही से बढ़ रहा संक्रमण।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3hKOHrk

0 komentar