खाने का ऑर्डर लेगा डिजिटल मेन्यू, भोजन परोसने ही आएंगे वेटर , October 01, 2020 at 05:36AM

अब रेस्टोरेंट में बैठकर भोजन का लुत्फ उठाने के दौरान कोरोना का डर आपको नहीं सताएगा। जीरो कॉन्टैक्ट फूड सप्लाई के तहत टेबल पर मेन्यू कार्ड नहीं दिखेंगे। खाने का ऑर्डर लेने कोई वेटर भी नहीं आएगा। पूरा सिस्टम एक छोटी सी मशीन संभालेगी। भिलाई की दो इंजीनियर बेटियों ने ऐसी डिवाइस बनाई है। इसका नाम डीजी मेन्यू रखा गया है। इस सिस्टम के तहत टेबल पर एक टच स्क्रीन और आवाज पर कमांड करने वाली मशीन लगाई गई है। इससे ऑर्डर दिए जाएंगे। खाने के बाद बिल इसी पर आएगा।

जानिए... कैसे काम करेगा सिस्टम
डिवाइस संतोष रूंगटा इंजीनियरिंग कॉलेज (आर-1) की छात्रा रुद्राणी चंदेल और पल्लवी करांगल ने तैयार की है। उन्होंने बताया कि इसे शहर के रेस्टारेंट और कैफे में एक प्रोडक्ट के तौर पर सेल करने की तैयारी है। जैसे ही कोई टेबल पर बैठेगा, सबसे पहले उसे मोबाइल के जैसी डिवाइस दिखेगी। यह डिजिटल मेन्यू है। इसमें पकवान के दाम और बनाने में लगने वाला समय फीड होगा। कस्टमर इसमें पकवान का नाम कहेगा। उस पकवान को कन्फर्म करते ही सूचना सीधे शेफ के पास लगे स्क्रीन पर दिखेगी। इसमें टेबल नंबर और अन्य विवरण भी होंगे।

किचन की हाइजीन स्क्रीन पर नजर आ जाएगा आर्डर
यह पूरा सिस्टम इंटरनेट पर काम करेगा। इसमें वाइस कमांड या टच स्क्रीन पर दिए गए ऑर्डर जैसे ही शेफ तक पहुंचेंगे, वैसे ही ग्राहक के टेबल पर रखी स्क्रीन डिवाइस पर किचन लाइव शुरू हो जाएगा। ग्राहक किचन की हाइजीन को भी देख पाएंगे और खाना पका रहे शेफ द्वारा बरती जाने वाली सावधानियों की भी जानकारी ले सकेगा। इस तरह रेस्टारेंट के किसी और कर्मचारी के साथ भी कोई कॉन्टैक्ट नहीं होगा।

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए तैयार किया डिवाइस
रुद्राणी ने बताया कि कोरोना संक्रमण काल में रेस्टारेंट और होटल संचालक बेहद परेशान है। भारत सरकार ने रेस्टारेंट में बैठाकर खाना खिलाने की मंजूरी दे दी है, लेकिन ग्राहक अब भी इससे परहेज कर रहे हैं। रेस्टारेंट और उनमें काम कर रहे कर्मचारियों के सामने आर्थिक तंगी बड़ी समस्या बनकर उभरी है। इस डिवाइस के रेस्टारेंट में रहने से लोगों को जरूर बाहर निकलकर खाने की हिम्मत आएगी। इससे किसी की नौकरी भी नहीं जाएगी, क्योंकि वेटर वहां कार्यरत है, उसको सिर्फ एक बार ही कस्टमर के सामने जाना है।

डेढ़ हजार रुपए में तैयार किया, सभी कर सकेंगे उपयोग
इस मेन्यू डिवाइस को तैयार करने में करीब डेढ़ हजार रुपए का खर्च आया है। इसमें दो स्क्रीन लगी हुई है। एक में टेबल पर बैठा ग्राहक मेन्यू देखकर ऑर्डर देगा और दूसरी स्क्रीन पर शेफ वही ऑर्डर देखकर खाना पकाएगा। अभी हर जगह कम मैनपॉवर के साथ काम किया जा रहा है, ऐसे में यह डिवाइस वेटर्स की संख्या कम होने पर भी मैनेज कर लेगी। डिवाइस को माइक्रो कंट्रोलर और कुछ सेंसर भी लगाया गया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3n8H0Pu

0 komentar