कोरोना टेस्ट के नाम पर गर्भवती महिलाओं से दुष्कर्म, स्वास्थ्यकर्मी को पुलिस ने किया गिरफ्तार , September 06, 2020 at 07:07PM

गरियाबंद जिले के राजिम थाना इलाके में दो गर्भवती महिलाओं के दुष्कर्म का मामला सामने आया है। इस घटना में आरोपी स्वास्थ्य विभाग का कर्मचारी है। यह शातिर बदमाश कोरोना जांच के नाम पर तीन दिनों तक महिलाओं के घर जाता रहा। महिलाओं को अलग कमरे में ले जाकर उनके साथ अश्लीलता की। शुरूआत में इस घटना से डर चुकी महिलाओं ने चुप्पी साधे रखी मगर बाद में पतियों को इसकी जानकारी दी। रविवार को इस मामले में पुलिस ने आरोपी स्वास्थ्य कर्मी को गिरफ्तार कर लिया।

घर पहुंचकर कहा- कमरे में चलिए जांच होगी

फोटो राजिम थाने की है। पुलिस को शक है कि आरोपी ने इसके पहले भी कुछ महिलाओं के साथ ऐसी हरकत की होगी, आरोपी से इस संबंध में पूछताछ की जा रही है।
फोटो राजिम थाने की है। पुलिस को शक है कि आरोपी ने इसके पहले भी कुछ महिलाओं के साथ ऐसी हरकत की होगी, आरोपी से इस संबंध में पूछताछ की जा रही है।

राजिम थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी शत्रुघन सेन राजिम का रहने वाला है। यह सुरसाबांधा गांव के उपस्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ्यकर्मी के पद पर पदस्थ है। इस गांव में एक घर से कुछ लोग कोविड पॉजिटिव पाए गए। इन लोगों को कोविड सेंटर मे भेज दिया गया था। इसके बाद परिवार के बाकी लोगों की जांच होनी थी। आरोपी शत्रुघ्न सेन 2 सितम्बर उसी घर में पहुंचा। यहां 3 महीने और 9 माह की गर्भवती महिलाएं थीं। इन्हीं के साथ आरोपी ने अश्लीलता की। इसके बाद वो 3 और 4 सितंबर को भी जांच के नाम पर घर गया और घटना को दोहराने लगा।

लोगों ने किया हंगामा
शत्रुघन की करतूत बढ़ते देख महिलाओं ने चुप्पी तोड़कर पतियों को जानकारी दी। लोगों ने स्वास्थ्य केंद्र पहुंचकर हंगामा कर दिया। मामला राजिम के बीएमओ वीरेंद्र हिरौंदिया के पास पहुंचा। शनिवार की सुबह बीएमओ ने इस संबंध में पूछताछ कर रिपोर्ट बनाई। इस बात की जानकारी भी सामने आई कि शत्रुघन अक्सर शराब के नशे में भी ड्यूटी पर आता है। बीएमओ ने भी घटना की पुष्टि करते हुए मामले की जानकारी पुलिस को दी। अब आरोपी इस शर्मनाक हरकत के लिए गिरफ्तार किया जा चुका है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फोटो राजिम की है। आरोपी के खिलाफ गांव के लोगों में बेहद गुस्सा है। स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने विभागीय कार्रवाई की बात भी कही है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/35cHptY

0 komentar