आरओबी और व्यापार विहार रोड जाम में फंसा इस साल राहत नहीं, परेशानी की मियाद बढ़ी , September 08, 2020 at 07:19AM

सूर्यकान्त चतुर्वेदी | रायपुर रोड से आने जाने के लिए तिफरा के एकमात्र आरओबी व महाराणा प्रताप चौक पर जाम की समस्या और गंभीर हो गई है। वहीं व्यापार विहार के स्मार्ट रोड के एक हिस्से का काम अधूरा है, सारा ट्रैफिक एक ओर की सड़क पर चल रहा है। इससे आए दिन डेढ़ दो किलोमीटर लंबा जाम लग जाता है। इसके लिए ट्रैफिक को डायवर्ट कर दिया गया है। लोगों को पुराने आरओबी में कुछ दूर चल कर वापस लौट कर दूसरी तरफ से गौरव पथ की ओर जाने के लिए रास्ता मिलता है। इससे मौके पर ट्रैफिक जाम की समस्या गंभीर हो गई है। वर्क आर्डर के मुताबिक आरओबी का निर्माण मार्च 2019 में पूर्ण हो जाना था, परंतु इसमें 17 महीने की देरी हो चुकी है। ठेकेदार ब्रह्मपुत्र बीकेबी, हरियाणा (पंचकुला) को काम पूरा करने के लिए दिसंबर 2020 तक का एक्सटेंशन दिया गया है, परंतु शेष कार्यों की लंबी फेहरिस्त देख कर लगता है कि आरओबी का काम इस साल पूरा नहीं होगा। स्मार्ट रोड के निर्माण के लिए 2 अक्टूबर की डेडलाइन है, परंतु 550 मीटर कांक्रीटीकरण का काम बाकी है।

जानिए आरओबी में क्या काम बाकी
तिफरा आरओबी के तीन हिस्से का काम बाकी है। इसमें रेलवे लाइन के ऊपर का कार्य सबसे अहम है। इसके लिए कांक्रीट का स्ट्रक्चर और स्टील गर्डर तैयार करने का काम चल रहा है। रेलवे के हिस्से की लंबाई 82 मीटर है। ज्वायंट में बाक्स गर्डर क्रेन से रखकर जोड़ा जाएगा। रेलवे के हिस्से का काम जितना पेचीदा है, महाराणा चौक के पास कास्टिंग बाटम याने पुल के दोनों छोर को जोड़ने का काम भी कमोबेश वैसा ही है। इसकी लंबाई 55 मीटर है। इसके बाद आखिरी छोर रायपुर रोड के 50 मीटर हिस्से में बाक्स गर्डर लगाने का कार्य बाकी है।

गलत प्लानिंग, चौड़ाई नहीं बढ़ाई
तिफरा के पुराने आरओबी के सकरे होने के कारण जाम की समस्या से निबटने के लिए दूसरे आरओबी का प्लान तैयार किया गया, परंतु इसकी चौड़ाई भी एक जैसी रखी गई। दोनों पुलों की चौड़ाई 12 मीटर है। पुराने आरओबी को पीडब्ल्यूडी के द्वारा तैयार कराया गया है। वहीं नए आरओबी का निर्माण नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग की देखरेख में चल रहा है। पुल की चौड़ाई नहीं बढ़ाने, गलत प्लानिंग के बारे में नगरीय प्रशासन विभाग के चीफ इंजीनियर यूके धलेंद्र से जानकारी के लिए मैसेज भेजा गया, परंतु उन्होंने जवाब नहीं दिया।

स्मार्ट रोड का काम बारिश में बंद रहा
स्मार्ट सिटी लिमिटेड के प्रबंधक पीके पंचायती का कहना है कि कोरोना के कारण कामकाज ठप रहा। बारिश में कांक्रीटीकरण का काम नहीं कराया जाता,क्योंकि गुणवत्ता का सवाल है। इस वजह से कार्य प्रभावित हुआ। अब रोड के शेष हिस्से की कांक्रीटीकरण कराई जाएगी। रोड का काम इसी साल पूरा कराया जाएगा।

सीधी बात
यूजिन तिर्की, एसई नगरीय प्रशासन विभाग

सवाल - कार्य में देरी से लोगों की परेशानियों की मियाद बढ़ गई है, इसके लिए कौन जिम्मेदार है?
-काम वक्त पर शुरू नहीं होने के पीछे भूमि के अधिग्रहण की वजह रही। कार्य के लिए साइड उपलब्ध होने में देरी हुई। यह प्रशासनिक मामला है।
सवाल - दो बार एक्सटेंशन के बाद अब कब तक काम पूरा होगा?
-ठेकेदार को आरओबी का काम दिसंबर 2020 तक पूर्ण करने कहा गया है। कोशिश की जा रही है कि इस अवधि में कार्य पूर्ण हो जाए।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Trapped in ROB and Vyapar Vihar road jam, no relief this year, problem of trouble increased


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3h8p5EB

0 komentar