रजिस्ट्री दफ्तर में काम बंद, तहसील में लोगों की एंट्री बैन, प्रापर्टी बिजनेस ठप , September 10, 2020 at 06:02AM

पंजीयन दफ्तर में वरिष्ठ उप पंजीयक की कोरोना से मृत्यु के बाद वहां दो अफसरों के कमरे सील कर दिए गए हैं। दफ्तर के करीब तीन कर्मचारी भी संक्रमित हैं। हालांकि प्रशासन ने दफ्तर चालू रखा है, लेकिन कर्मचारियों ने विरोध करते हुए काम रोक दिया है। इसलिए रजिस्ट्री रोकनी पड़ गई है और लोगों को एक माह के बाद की तारीख दी जा रही है। इधर, रजिस्ट्री के पहले जमीन संबंधी दूसरे कार्य जैसे नामांकन, बटांकन और डायवर्सन आदि तहसील दफ्तर से होते हैं, वहां आम लोगों की एंट्री बैन कर दी गई है। इस वजह से यह काम भी ठप हो गए हैं और अघोषित रूप से रियल एस्टेट बिजनेस रुक गया है।
पंजीयन विभाग के मुख्य रजिस्ट्रार जेआर अर्मो के रिटायर होने के बाद फिलहाल रायपुर का चार्ज दुर्ग के पंजीयक डीआर भूआर्य को दिया गया है। उनके पास दोहरी जिम्मेदारी होने की वजह से वे रायपुर कम आते हैं। रायपुर-दुर्ग दोनों जिले कोरोना हॉटस्पॉट होने की वजह से उन्हें भी काम संभालने में परेशानी हो रही है। आम लोगों की पहुंच उन तक नहीं हैं और अफसरों को भी निर्देश फोन पर मिल रहे हैं। रायपुर बड़ा जिला होने के बावजूद अभी तक यहां पूर्णकालिक पंजीयक की नियुक्ति नहीं की गई है। फिलहाल रजिस्ट्री बंद होने की वजह से यह काम और लंबित हो गया है। नए रजिस्ट्रार की नियुक्ति कब तक होगी, यह भी तय नहीं है।

तहसील में सुनवाई की तारीख भी दो हफ्ते तक बढ़ाई
रायपुर तहसील में नायब तहसीलदार को कोरोना होने के बाद उनका कमरा सील कर दिया गया है। सावधानी के लिए फिलहाल तहसील में आम लोगों का प्रवेश बंद कर दिया गया है। जिन मामलों की सुनवाई इस हफ्ते होनी थी उन्हें अगले दो हफ्ते के बाद की तारीख दे दी गई है। संबंधित पक्षों को एसएमएस और फोन से इसकी जानकारी दे दी गई है। तहसील में भी कोरोना फैलने की वजह से अफसरों ने भी दफ्तर से दूरी बना ली है। सभी अफसर कुछ देर के लिए ही अलग-अलग स्लॉट में दफ्तर आ रहे हैं। तहसीलदार अमित बेक ने बताया कि अत्यंत आवश्यक होने पर ही पूरी जांच के बाद ही लोगों को प्रवेश दिया जा रहा है। दफ्तर बंद करने का प्रस्ताव भी शासन को भेज दिया गया है।

रियल एस्टेट वालों की अपील, सावधानी के साथ खोलें दफ्तर
कोरोना काल में लोगों की सोच में बहुत सारे बदलाव हुए, इसमें महत्वपूर्ण यह भी है कि ज्यादातर लोगों को खुद के घर की जरूरत महसूस होने लगी है। इस वजह से अनलाॅक की शुरुआत से ही रियल एस्टेट मार्केट उठने लगा था। प्लाॅट और फ्लैट काफी बिके। लेकिन अब तहसील और रजिस्ट्री विभाग में एक साथ काम बंद होने की वजह से रियल एस्टेट का कारोबार ठप हो रहा है। रियल एस्टेट से जुड़े कारोबारियों ने सरकार से अपील की है कि पूरी सावधानी और कोरोना नियमों का सख्ती से पालन करवाने के साथ दफ्तर खोले जाएं। इससे लोगों के काम भी नहीं रुकेंगे और सरकार को भी राजस्व मिलता रहेगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Work stopped in registry office, entry ban of people in tehsil, property business stalled


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3bPdSYr

0 komentar