मंत्रालय में सेनेटाइजेशन शुरू, अस्पताल कर रहे अपग्रेड, बसें भी बढ़ेंगी, रोटेशन सोमवार से , September 12, 2020 at 06:29AM

कर्मचारियों के सामूहिक छुट्टी पर जाने की धमकी के बाद हरकत में आए प्रशासन ने महानदी और इंद्रावती भवनों में कोरोना से बचाव के उपाय तेज कर दिए हैं। शुक्रवार से सेनेटाइजेशन प्रारंभ हो गया जो अगले तीन दिनों तक जारी रहेगा। मंत्रालय में तीन अस्पताल हैं इसमें से दस बिस्तर वाले अस्पताल को कोरोना के लिए अपग्रेड किया जा रहा है। हफ्ते में तीन दिनों तक कर्मचारियों का चेकअप नियमित होगा। स्टाफ के लिए बसों की संख्या भी बढ़ाई जा रही है। सोमवार से वीकली रोटेशन के सिस्टम पर काम होगा।
मंत्रालय में शुक्रवार को गिनती के ही कर्मचारी पहुंचे थे। यहां लगभग बंद जैसा माहौल था। रजिस्ट्रार एनपी मरावी समेत 6 और पाजीटिव मिले। अब मंत्रालय में कुल 90 पॉजिटिव हो गए हैं। मंत्रालय में 1500 में से अब तक करीब 300 स्टाफ की कोरोना जांच रिपोर्ट आ गई है। इनमें से 90 पाजीटिव हैं। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कई सचिव मंत्रालय नहीं आ रहे हैं। सभी ने अपने उप सचिव और अवर सचिवों की रोटेशन के अनुसार ड्यूटी लगाकर वर्क फ्राम होम कर रहे हैं। वित्त और विधि विभाग ने अंतरविभागीय फाइलें लेने से मना कर दिया है। उन्हें आशंका है कि फाइलों के जरिए भी वायरस फैल सकता है। यहां के अधिकारी, अत्यावश्यक फाइलें सेनेटाइज करके लाने कह रहे हैं।

अस्पताल जहां की डॉक्टर ही बीमार
मंत्रालय के बाहर 10 बिस्तर अस्पताल है। इसमें अभी दवा देने या आपात स्थिति में मरीजों को कुछ घंटे भर्ती कर रायपुर रिफर करने के अलावा कोई काम नहीं होता है। अब इस अस्पताल को कोरोना के लिए अपग्रेड किया जा रहा है। मंत्रालय में एलोपैथिक अस्पताल व आयुर्वेदिक डिस्पेंसरी भी है। ऐलोपैथिक अस्पताल की महिला डॉक्टर पाजीटिव आने के बाद यहां ताला लटक रहा है। ताजा हालात को देखते हुए सभी अस्पतालों की सुविधाएं बढ़ाने की संभावना है।

होम आइसोलेट मरीजों की जानकारी अब सीएमएचओ को भी
निजी अस्पताल, नर्सिंग होम्स और डॉक्टर होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों से संबंधित जानकारी और उनके होम आइसोलेशन की समाप्ति की सूचना जिला सीएमओ को उपलब्ध देंगे। स्वास्थ्य विभाग ने इस संबंध में सभी सीएमओ निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम्स के संचालकों तथा डॉक्टरों को परिपत्र जारी किया गया है।


स्वास्थ्य विभाग ने कहा है कि कुछ निजी अस्पतालों एवं डॉक्टरों द्वारा मरीजों के दैनिक रिकार्ड जैसे तापमान, ऑक्सीजन लेवल, मरीज के लक्षणों तथा होम आइसोलेशन की अवधि की समाप्ति की जानकारी संकलित कर साझा नहीं कर रहे। स्वास्थ्य विभाग ने होम आइसोलेशन में मरीजों की निगरानी कर रहे निजी चिकित्सालयों, नर्सिंग होम्स और डॉक्टरों को निर्देशित किया है कि उनके माध्यम से यह सुविधा प्राप्त कर रहे सभी व्यक्तियों की सूची तथा होम आइसोलेशन अवधि की समाप्ति की सूचना अनिवार्य रूप से संबंधित जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी और आई.डी.एस.पी. शाखा से साझा करें। साथ ही होम आइसोलेशन में उपचाररत् व्यक्ति के प्रतिदिन की जानकारी भी निर्धारित प्रपत्र के अनुसार संकलित कर साझा करें।

यूनियन ने प्रशासन की तारीफ की
घमासान के बाद समझौते के सभी बिंदुओं पर अमल होने पर शुक्रवार को यूनियनों के बोल बदल गए। उन्होंने शासन-प्रशासन की जमकर तारीफें की। उन्होंने प्रशंसा के खत भी लिखे। राजपत्रित अधिकारी संघ के कमल वर्मा, शीघ्र लेखक संघ से देवलाल भारती ने सीएम भूपेश बघेल व सीएस तथा जीएडी को धन्यवाद के पत्र भी लिखे हैं। संवेदन शासन संबोधित करते हुए कर्मचारियों के हित में उठाए कदमों की सराहना की है। मंत्रालयीन कर्मचारी संघ के केपी नेताम, वन कर्मचारी प्रकोष्ठ के मनोहर लोचनम, प्रदेश अधिकारी-कर्मचारी संघ, शासकीय संयुक्त कर्मचारी संघ समेत कई संगठनों के नाम हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
मंत्रालय और विभाग सैनिटाइज करते कर्मचारी।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3bQqAWN

0 komentar