नक्सलियों ने गांव से दो परिवारों को निकाला बाहर; इनमें से एक पुलिस वाले का घर, दूसरे पर पुलिस का मुखबिर होने का आरोप , September 12, 2020 at 06:44AM

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने नकुलनार क्षेत्र के दो परिवारों को गांव से बाहर निकाल दिया है। एक परिवार के सदस्य पर नक्सलियों ने पुलिस का मुखबिर होने का आरोप लगाया है। वहीं, दूसरे परिवार का सदस्य ही पुलिस वाला है। दोनों परिवारों के लोग पोलमपल्ली पहुंचे तो सारा मामला सामने आया।

नक्सलियों ने बुधवार देर रात जग्गावारम इलाके में ग्रामीणों की बैठक बुलाई थी। इस बैठक नक्सलियों ने पालामड़गु गांव के दो परिवारों पर पुलिस के लिए काम करने का आरोप लगाया। मड़कम धुरवा के परिवार पर पुलिस का मुखबिरी करने का आरोप लगाया गया। वहीं एक अन्य परिवार का सदस्य पुलिसकर्मी है। वह दोरनापाल थाने में तैनात है।

दोनों परिवार के सदस्य देर शाम पोलमपल्ली गांव पहुंचे
नक्सलियों ने दोनों परिवारों को गांव छोड़ने का फरमान जारी कर दिया। गुरुवार को मड़कम धुरवा कुछ सामान लेकर पत्नी और चार बच्चों सहित पोलमपल्ली के लिए निकल गया। देर शाम वह पोलमपल्ली पहुंचा तो इलाके के लोगों को जानकारी हुई। वहीं दूसरा परिवार का भी युवक अपनी पत्नी और 3 बच्चों के साथ ट्रैक्टर में सामान लेकर पोलमपल्ली पहुंचा है।

कलेक्टर की ओर से परिवारों के रुकने की व्यवस्था के निर्देश
जानकारी मिलने पर कलेक्टर चंदन कुमार ने दोनों परिवारों के ठहरने और भोजन की व्यवस्था कराने अधिकारियों को मौके पर भेजा है। फिलहाल स्थानीय ग्रामीण दोनों परिवारों को तात्कालिक सहायता मुहैया करा रहे हैं। बताया जा रहा है कि नक्सलियों ने अपनी रणनीति में परिवर्तन किया है। इस सप्ताह नक्सलियों ने पुलिस फोर्स के सप्लायरों को भी चेतावनी पत्र जारी किया था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने नकुलनार क्षेत्र के दो परिवारों को गांव से बाहर निकाल दिया है। एक परिवार के सदस्य पर नक्सलियों ने पुलिस का मुखबिर होने का आरोप लगाया है। वहीं दूसरे परिवार का सदस्य ही पुलिसकर्मी है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2DQIfBj

0 komentar