फर्स्ट ईयर में ऑफलाइन प्रवेश आज से, कॉलेज की मर्जी से सीट, मेरिट लिस्ट का झंझट नहीं , September 15, 2020 at 07:12AM

फर्स्ट ईयर की खाली सीटों पर प्रवेश के लिए अब ऑनलाइन आवेदन या फिर मेरिट लिस्ट का झंझट नहीं होगा। उपलब्ध सीटों पर कॉलेज अपनी मर्जी के अनुसार प्रवेश दे सकेंगे। कॉलेजों को ऑफलाइन प्रवेश देने की एक दिन की छूट मिली है। पं. रविशंकर शुक्ल विवि ने इस संबंध में सोमवार को निर्देश जारी किया है। इससे पहले, कोरोना काल में फर्स्ट ईयर का प्रवेश भी प्रभावित हुआ है। दाखिले के लिए विवि की ओर से अगस्त में प्रक्रिया शुरू की गई। इसके तहत छात्रों से पहले ऑनलाइन आवेदन मंगाए गए और फिर मेरिट के अनुसार प्रवेश दिए गए। इस सिस्टम के तहत तीन चरणों की प्रक्रिया खत्म हो गई है और चौथे चरण की चल रही है। फिर भी कॉलेजों में सीटें खाली हैं, खासकर प्राइवेट कॉलेजों में प्रवेश कम हुए हैं। इसे लेकर अब ऑफलाइन प्रवेश के लिए निर्देश जारी किए गए हैं। विवि के अधिकारियों ने बताया कि 15 सितंबर को छात्रों को ऑफलाइन प्रवेश दिया जाएगा। जबकि 16 सितंबर को दिए गए प्रवेश का विवरण कॉलेज विवि को ऑनलाइन देंगे।
बीएससी, बीकॉम, बीए, बीसीए समेत अन्य पाठयक्रम में प्रवेश के लिए छात्र संबंधित कॉलेजों से संपर्क कर सकते हैं। सीटें खाली रहने पर कॉलेज सीधे प्रवेश दे सकेंगे। विवि के अफसरों का कहना है कि 16 सितंबर तक कॉलेजों से प्रवेश की पूरी जानकारी मिल जाएगी। इससे पता चल जाएगा कि प्रवेश को लेकर इस बार क्या स्थिति रही? सीटें खाली रहने के बाद आगे भी एडमिशन के लिए तारीख बढ़ेगी या नहीं इस संबंध में अभी स्थिति साफ नहीं है।

ऑफलाइन से कॉलेजों को होगा फायदा
शिक्षाविदों का कहना है कि प्रवेश की प्रक्रिया ऑफलाइन होने से कॉलेजों को फायदा होगा। वे कॉलेजों में आने वाले छात्रों को पात्रता के अनुसार सीधे प्रवेश दे सकेंगे। इससे पहले, उन्हें प्रवेश के लिए यह देखना पड़ता था कि छात्र का मेरिट लिस्ट में नाम है या नहीं? जिन छात्रों को कम नंबर मिले थे उन्हें कॉलेज मेरिट लिस्ट की वजह से प्रवेश नहीं दे पा रहे थे। अब वे अपनी सुविधानुसार उपलब्ध सीटों पर प्रवेश देंगे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Offline admission in first year today, seat of college will not merit list merit


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/35AGQu0

0 komentar