रमन सिंह बोले- भयावह संक्रमण नहीं रोक पा रही सरकार; संसदीय सचिव ने कहा - जीन में बदलाव की वजह से अधिक संक्रमण - उपाध्याय , September 16, 2020 at 05:13AM

पूर्व सीएम और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ में तेज़ी से बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर भूपेश सरकार की विफलता पर तीखा हमला बोला है। डॉ. सिंह ने कहा कि राज्य सरकार न संक्रमण के फैलाव को रोक पा रही है, न अस्पतालों में कोई व्यवस्था कर पा रही है।
डॉ. सिंह ने कहा कि पूर्व में केंद्र और राज्य सरकार ने स्मार्ट कार्ड और आयुष्मान भारत योजना में मरीजों को 50 हज़ार से लेकर 05 लाख रुपए तक के इलाज को नि:शुल्क कर दिया था। लेकिन सत्ता में आने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजनीतिक प्रतिशोध के चलते इन दोनों ही योजनाओं को बंद कर दिया। डॉ. सिंह ने कहा कि यदि प्रदेश सरकार ने जनकल्याण की इन योजनाओं को जारी रखा होता तो आज प्रदेश के लोगों को कोरोना समेत अन्य बीमारियों के इलाज में राहत मिलती।
दूसरी ओर संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने कई स्पेशलिस्ट डाक्टरों से चर्चा कर कहा है कि कोरोना वायरस के म्यूटेशन अर्थात वायरस के जीन में बदलाव की वजह से अधिक संक्रमण फैल रहा है, जिसका नाम वैज्ञानिकों ने D614G दिया है। इन विशेषज्ञों का मानना है कि यह म्यूटेशन वायरस पहले की अपेक्षा 10 गुना ज्यादा तेजी से फैल रहा है, यही वजह है कि छत्तीसगढ़ समेत पूरे देश में कोरोना संक्रमण के ज्यादा मामले आ रहे हैं। उपाध्याय का दावा है कि पिछले 2 दिनों उन्होंने देश व विदेश से अपने परिचित कई चिकित्सक व विशेषज्ञ लोगों से बात कर इस बात की जानकारी ली है।
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि रमन सिंह जैसे नेता भी इस प्रकार के गलत बयानों को जारी कर रहे है। उन्हें राज्य की इतनी ही चिंता है तो पीएम मोदी से कहकर पूरा इलाज मुफ्त में करवा दें।

कोरोना केपिटल बना रायपुर अस्पतालों में बेड नहीं: अमित
जोगी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने कोरोना के लगातार बढ़ते संक्रमण और मौतों पर कहा कि रायपुर अब कोरोना कैपिटल बन गया है। कोरोना संक्रमण के मामले में रायपुर ने देश के बड़े शहर जयपुर, लखनऊ, भोपाल और इंदौर जैसे शहरों को पीछे छोड़ दिया है। अमित ने सिस्टम पर सवाल उठाते हुए कहा कि राजधानी में कोरोना मरीजों को न तो बेड मिल रहा है और न ही सही इलाज। कहीं परिजन शव के लिए हंगामा कर रहे हैं तो कहीं उनके अंतिम संस्कार पर सवाल उठ रहे हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/35G7zoU

0 komentar