घर पर कोरोना का इलाज, सामान्य दवाई देकर मरीज से वसूली की कोशिश, केस दर्ज , September 23, 2020 at 06:35AM

कोरोना के इलाज और दवाई के नाम पर ठगी का रैकेट चल रहा है। कोरोना मरीजों का घर आकर इलाज का झांसा देकर कुछ लोग सामान्य दवाइयां दे गए और मोटी रकम वसूली गई। ऐसे ही एक मामले में कोरोना मरीज की शिकायत पर रविवार को सिविल लाइंस पुलिस ने अंबेडकर अस्पताल की नर्स और उसके सहयोगी के खिलाफ ठगी का केस दर्ज कर लिया है।
टीआई आरके मिश्रा ने बताया कि सिविल लाइन की एक महिला कुछ दिन पहले पॉजिटिव हो गई थी और होम आइसोलेशन पर थी। इसी दौरान उनके पास एक नंबर से फोन आया कि वे घर पर इलाज करवाना चाहें तो उनकी टीम घर आकर इलाज का इंतजाम करेगी। कोरोना के डर की वजह से महिला तैयार हो गई। इसके बाद दीपा दास नाम की नर्स इलाज के लिए आई और 3 हजार का खर्च बताया। उसके साथ सहयोगी राकेश चंद्र सिंह भी था। दीपा ने महिला को दो इंजेक्शन लगाए और इसका पैसा भी लिया। महिला ठीक हो गई तो सोमवार को राकेश चंद्र महिला के घर पहुंचा और 10 हजार मांगने लगा।

उसने कहा कि उन्हें कोरोना का इंजेक्शन लगाया गया, जो महंगा था। उनका इलाज अच्छे से किया गया है, इसलिए पैसे देने होंगे। इसके बाद महिला ने पुलिस को सूचना दी। दोनों के खिलाफ ठगी का केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि नर्स अंबेडकर अस्पताल की कर्मचारी बताई जा रही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/362EAvM

0 komentar