संविदा स्वास्थ्यकर्मियों ने सौंपा सामूहिक इस्तीफा , September 24, 2020 at 06:26AM

नियमितीकरण की मांग को लेकर एनएचएम के स्वास्थ्य कर्मियों ने अपनी अनिश्चितकालीन हड़ताल तेज कर दी है। बुधवार को जिले के करीब 247 संविदा कर्मियों ने सीएचएमओ कार्यालय में इकट्‌ठा होकर प्रदर्शन किया और मांग पूरी नहीं होने पर प्रबंधन को अपना सामूहिक इस्तीफा सौंपा। जिले में करीब 500 स्वास्थ्य कर्मी एनएचएम के हैं। इनमें से ज्यादातर कर्मचारियों की पोस्टिंग ब्लॉक और ग्रामीण स्तर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में हैं। इनके हड़ताल पर चले जाने से कामकाज आंशिक रूप से प्रभावित होने लगा है। हड़ताल पर गए कर्मचारियों ने मांग पूरी हुए बिना काम पर लौटने से मना कर दिया है। सीएमएचओ सिसोदिया ने बताया कि 11 संविदा कर्मचारियों को बर्खास्त भी कर दिया गया है। यदि हड़ताल पर गए दूसरे कर्मचारी भी काम पर नहीं लौटे तो उनके ऊपर भी सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसको लेकर कलेक्टर को भी पत्र लिखकर मार्गदर्शन मांगा है।

इन कर्मचारियों को किया बर्खास्त
हड़ताल पर जाने वाले जिन 11 संविदा स्वास्थ्य कर्मियों को बर्खास्त किया गया है, उनमें 3 आरएमए सहित अन्य अफसर-कर्मचारी शामिल हैं। बर्खास्त कर्मचारियों में मनिंदर सिंह जट्टाल, बैजनाथ कुर्रे, नेल्सन इक्का, सत्य प्रकाश सिंह, बजरंग बर्मा, विजेता तिर्की, विशाल सिन्हा, आनंद मिश्रा, संजीव कुमार केरकेट्टा, प्रवीण कुमार वर्मा और सुनील कुमार हैं।

बर्खास्त कर्मियों की जगह जल्द होगी नई नियुक्ति
"हड़ताली कर्मचारियों को नोटिस देकर काम पर लौटने निर्देश दिए थे। इसके बाद भी वे नहीं लौटे। बुधवार को 200 से अधिक संविदा कर्मियों ने सामूहिक इस्तीफा दिया है, जिनमें 11 लोग को बर्खास्त कर दिया। उनकी जगह नई नियुक्ति होगी। यदि हड़ताल पर गए अन्य कर्मचारी भी काम पर नहीं लौटे तो उन्हें भी बर्खास्त करेंगे।"
-डाॅ. पीएस सिसोदिया, सीएमएचओ, सरगुजा



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3mXbxQu

0 komentar