नौकरी लगाने कई लोगों से की ठगी, गिरफ्तार , September 25, 2020 at 06:02AM

एसईसीएल में नौकरी लगाने के नाम पर रुपए लेकर धोखाधड़ी करने के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने कई लोगों से रुपए लेकर नौकरी लगाने का झांसा दिया था। आरोपी को न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।
ण्पुलिस ने बताया कि करतमा निवासी विनोद दास ने जयनगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि 20 मई 2018 को राजापुर लकड़ापारा निवासी शिवरतन प्रजापति ने एसईसीएल में नौकरी दिलाने के नाम पर 35 हजार रुपए और सुरेन्द्र सोनवानी से करीब 70 हजार रुपए लेकर धोखाधड़ी की है। पुलिस ने केस दर्ज कर छानबीन शुरू की। जांच के दौरान फरार शिवरतन प्रजापति के बारे में जानकारी मिली कि वह जगह बदल-बदल कर रह रहा है। इसी दौरान मुखबिर से सूचना मिलने पर आरोपी को उदयपुर में घेराबंदी कर हिरासत में लिया गया।
पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि विनोद दास के साथ वर्ष 2013 से 2015 तक कमलपुर अदानी कोल साइडिंग में गार्ड की नौकरी के दौरान जान-पहचान हुई थी। गार्ड की नौकरी छोड़ने के बाद एसईसीएल की एक कंपनी में गार्ड की नौकरी के दौरान 2018 में विनोद दास मिला, जिसे एसईसीएल में नौकरी लगाने 4 लाख मांगे। इस पर विनोद ने 30 हजार, विनोद के दोस्त सुरेन्द्र ने 60 हजार, सतीश रजक ने 30 हजार और सतेन्द्र राजवाड़े ने 30 हजार रुपए दिए थे। पुलिस ने बताया कि आरोपी ने सांवरटिकरा के एक व्यक्ति जिसकी जमीन एसईसीएल में फंसी थी। उसी जमीन के कागजात को दिखाकर नौकरी लगाने के नाम पर पैसा लिया और अपने हिस्से की रकम रखकर अपने एक सहयोगी मित्र के खाते में रुपए जमा कराए। यही नहीं अपने दामाद की नौकरी के लिए भी पैसा लेकर अपने सहयोगी के साथ बंटवारा किया। जिस सहयोगी के खाते में रुपए जमा किए हैं, उसकी अगस्त में मौत हो गई है। मामले में आरोपी शिवरतन प्रजापति पुत्र ललका राम को न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। इस कार्रवाई में थाना प्रभारी दीपक पासवान, एएसआई विराट विशी, आरक्षक अनिल, सुरेश तिवारी व शिव राजवाड़े शामिल रहे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3kJDHMO

0 komentar