होटल के कमरे में मिली शराब की बोतलें, पुलिस बयानों में गांजा (वीड) का भी जिक्र, छेड़छाड़ बनी फायरिंग का कारण , September 29, 2020 at 06:23AM

वीआईपी रोड के क्वींस क्लब में रविवार को आधी रात हुए हवाई फायर की परतें अब उधड़ रही हैं। हाईप्रोफाइल होटल संचालकों का लॉकडाउन में भी पार्टियां करवाने का हौसला, खुलेआम शराबखोरी, सूखा नशा (वीड), नशे में धुत्त लड़कियां और इस वजह से लड़कों के बीच आपस का झगड़ा इस गोलीबारी की वजह बना है। पुलिस ने क्लब संचालक तथा शहर के एक बिल्डर के बेटे हर्षित सिंघानिया और प्रभावशाली कारोबारी नमित जैन के साथ-साथ अभी 14 लोगों को आरोपी बनाया है, लेकिन शंकरनगर की जिस लड़की ने बर्थडे पार्टी अरेंज करवाई थी, वह और उसकी मित्र मंडली की सूची बन रही है। खुलासा यह भी हुआ है कि सिर्फ क्वींस क्लब ही नहीं, वीआईपी रोड के कई बड़े होटल लॉकडाउन में पार्टियों और शराबखोरी का अड्‌डा बने हुए थे। क्वींस क्लब में 10 कमरे बुक होने की बात वहां से जब्त रजिस्टर में दर्ज है और अब तक किसी ने नहीं बताया कि कमरे क्यों बुक थे? अलबत्ता, उन्हीं में से एक कमरा नंबर 206 में बर्थडे पार्टी के सारे निशान जैसे शराब की खाली-भरी बोतलें, गिलास, सिगरेट के अधजले टोटे मिल गए हैं। पुलिस के मुताबिक इनमें से एकाध में गांजा (वीड) जैसी बदबू भी आ रही है। विवाद के केंद्र में आई लड़की को रात में नशे की वजह से छोड़ दिया गया था, लेकिन एफआईआर में आरोपी बना दिया गया है। कई बड़े कारोबारी और रसूखदार अब भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।
क्वींस क्लब गोलीकांड के बाद पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों ही नहीं, आसपास के लोगों के बयान भी लिए हैं। इन बयानों में यह बात आई है कि इस क्लब में ही नहीं, कई होटलों में महंगी गाड़ियों में युवक-युवतियों का आना-जाना बेहद सख्ती में भी कम नहीं हुआ। होटलों के गेट बाहर से बंद रहते थे, लेकिन भीतर पार्टियों का पता शहर के हर हाईप्रोफाइल युवक-युवतियों को था। इन पार्टियों में नशे से लेकर कई तरह की बातें आई हैं। सोमवार को इस मामले की जांच शुरू करनेवाले एएसपी लखन पटले ने बताया कि कई माध्यमों से इस क्लब में शराब के अलावा सूखा नशा (गांजा या वीड) के इस्तेमाल की बात आई है, संकेत भी मिले हैं। हालांकि ड्रग्स वगैरह नहीं मिली है। मंगलवार को क्लब में काम करने वाले सभी कर्मचारियों और उनके डायरेक्टर मेंबर्स को पूछताछ के लिए बुलाया गया है। ड्रग्स की बात आई तो एक जांच और शुरू करके नारकोटिक्स में कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी। गोली चलने के बाद जो युवक-युवती भागे हैं, सभी के फुटेज हैं। यह अब पुलिस के पास हैं, इसलिए पहचानना ज्यादा कठिन नहीं है।

क्लब में 10 कमरे आखिर किस काम के लिए बुक?
पुलिस ने बिल्डर के बेटे हर्षित को गिरफ्तार किया है। होटल के मैनेजर को भी पकड़ा है। दोनों ने पूछताछ में शराब पार्टी से इंकार किया है और कहा कि क्लब में कमरे लोगों को ठहरने के लिए बुक किए गए थे। भास्कर टीम ने रजिस्टर देखा तो इसी क्लब के रूम नंबर 206 को बुक किया गया था, उसे के भीतर से बर्थडे पार्टी और नशे का पूरा साजोसामान जब्त हुआ है। पुलिस का दावा है कि ये कमरे भी बर्थडे पार्टी के जश्न के लिए ही बुक थे। इधर, एफआईआर में शामिल कारोबारी नमित जैन ने पुलिस को लिखे पत्र में कहा है कि वे पिछले साल वे क्लब के पार्टनशिप से हट चुके हैं। एग्रीमेंट में भी उनका नाम नहीं है, इसलिए उनपर की गई कार्रवाई गलत है। इसकी जांच होनी चाहिए।

एफआईआर, नशे में धुत्त युवती, गालियां और बवाल
पुलिस ने जो एफआईआर दर्ज की, उसकी कॉपी भास्कर के पास है। इसके मुताबिक राजधानी का अनुराग नाम का युवक रात 11 बजे दोस्तों के साथ क्वींस क्लब में पार्सल लेने पहुंचा था। उसने पोर्च में कार खड़ी की। इस बीच, एक युवती लड़खड़ाती हुई होटल से बाहर आई। उसने कार के गेट पर लात मारी और गालियां देने लगी। इसी बात पर विवाद शुरू हुआ। युवती के साथ 52 साल का हितेश था। उसने आव देखा न ताव, पिस्टल निकालकर फायर कर दिया। पुलिस ने बताया कि झगड़ा बर्थडे पार्टी में नहीं बल्कि पोर्च पर ही हुआ था। पार्टी बिल्डर के बेटे ने शंकर नगर की युवती के लिए अरेंज की थी। इसमें 15 युवक-युवतियां आए थे। इसी पार्टी में भिलाई की लड़की के पीछे-पीछे एक हिस्ट्रीशीटर भी नजर आया था। बताते हैं कि पार्टी में उसका इस लड़की से विवाद हुआ, फिर लड़की बाहर निकली और पोर्च में हुड़दंग करने लगी। इसी बीच, गोली चला दी गई और अधिकांश लोग 10 मिनट में भाग निकले।

शहर में आधा शटर खुला तो केस, यहां हर करतूत माफ
पुलिस, प्रशासन और निगम की सख्ती सिर्फ शहर के भीतर ही रही। यहां कोई आधा शटर दुकान भी खोलता पाया गया तो 1000-5000 रुपए का जुर्माना किया गया। पुलिस के आकड़ों में नजर डालंे तो पिछले 7 दिन में 463 गाड़ी वालों से 1 लाख रुपए वसूला गया है। शहर के भीतर शराब बेचने वाले 32 कोचिया पर केस दर्ज किया गया। आदेश का उल्लंघन करने वाले 89 लोगों पर भी एफआईआर हुई हैं।

पहले भी कर चुका हवाई फायर
भिलाई का हितेश पटेल खुद को अमेरिकी नागरिक बताता है। उसके पास लाइसेंसी पिस्टल भी है। वह हमेशा लोडेड पिस्टल लेकर घूमता था। उसने भिलाई में भी एक युवक पर पिस्टल तानी थी। फिर फायर कर दिया था।


किसी को छोड़ेंगे नहीं, तलाश जारी : एसएसपी
"लॉकडाउन के दौरान क्लब में पार्टी करनेवालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की गई है। क्लब संचालकों को भी नहीं छोड़ा है। सूखे नशे को लेकर चर्चा में आया एंगल भी जांच के दायरे में रखा गया है। आरोपी कितने ही प्रभावशाली क्यों न हों, कोई बचेगा नहीं।"
-अजय यादव, एसएसपी रायपुर



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
होटल के कमरे में बर्थडे पार्टी से बची शराब।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/36dQ27Q

0 komentar