राजभवन के सामने केंद्र व मोदी के खिलाफ नारेबाजी, बोले- कृषि का निजीकरण नहीं होने देंगे, राज्यपाल को राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन , September 30, 2020 at 06:39AM

केन्द्रीय कृषि बिल के विरोध में छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने सड़क पर उतरकर अपना विरोध जताया। पीसीसी चीफ मोहन मरकाम और पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव के नेतृत्व में पीसीसी के नेताओं ने राजीव भवन से पैदल मार्च करते हुए राजभवन पहुंचे। राजभवन से पांच सौ मीटर दूर सभी नेताओं को रोक दिया गया। जहां कांग्रेसियों ने केन्द्र सरकार और प्रधानमंत्री के खिलाफ नारेबाजी की। कुछ देर बाद प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से मुलाकात कर अपनी बात रखी और राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर बिल को वापस करने की मांग की।
मीडिया से बातचीत करते हुए पीसीसी चीफ मोहन मरकाम ने कहा कि मोदी सरकार ने किसानों को व्यापारी बताकर बिल पास कराया है यह न सिर्फ कृषि बल्कि किसान विरोधी बिल है। पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि संख्या बल के आधार पर मोदी सरकार मनमानी पर उतर आई है। कृषि प्रधान देश में किसान का अहित किया जा रहा है। खेती समाप्त कर मोदी पूंजीपतियों का देश बनाना चाह रहे हैं। महापौर एजाज ढेबर ने कहा कि कृषि विरोधी काला कानून हर हाल में वापस होना चाहिए। मोदी सरकार खेती-किसानी का भी निजीकरण करने की तैयारी में है। वहीं स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम, सांसद फूलोदेवी नेताम, विधायक सत्यनारायण शर्मा कुलदीप जुनेजा, विकास उपाध्याय, शैलेष पांडेय, प्रमोद दुबे, शैलेष नितिन त्रिवेदी, गिरीश देवांगन, दीपक कुमार दुबे, रमेश वर्ल्यानी, चंद्रशेखर शुक्ला, शहर अध्यक्ष गिरीश दुबे, पंकज शर्मा, धनंजय ठाकुर, सुरेंद्र वर्मा, विकास बजाज, अमर गिदवानी, नितिन भंसाली मौजूद थे।

कानून पास करने देर न करें राज्य सरकार: उपाध्याय
संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा सुझाए गए संविधान के अनुच्छेद 254(ए) के तहत राज्य सरकार को कानून पास कराने में देरी नहीं करनी चाहिए। किसानों की आय दोगुना करने का झांसा देने वाली मोदी सरकार अब पूंजीपतियों की आय चौगुनी करने की तैयारी कर रही है।

कांग्रेस राजनीतिक प्रदूषण फैला रही : विष्णुदेव
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कांग्रेस के पैदल मार्च को नौटंकी बताते हुए कहा है कि स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशों के मुताबिक इन विधेयकों में प्रावधान करने के बावजूद कांग्रेस अब झूठ की राजनीति कर किसानों को उकसाकर अराजकता फैलाने का कृत्य कर रही है। साय ने कहा कि जो बातें इन विधेयकों के प्रावधान में नहीं हैं, जो प्रावधान इन विधेयकों में नहीं होना चाहिए और नहीं हो सकते, कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल के लोग उन्हीं बातों को लेकर देश को गुमराह करने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
राजभवन की ओर मार्च करते प्रदेश अध्यक्ष मरकाम के साथ संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, महापौर एजाज ढेबर के साथ अन्य


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3jeNYQV

0 komentar