10 साल पूजा-पाठ करने के बाद गुम इंसान इलाहाबाद से पैदल लौटा , October 11, 2020 at 05:27AM

रानीतराई पुलिस ने शनिवार को 10 साल बाद गुम इंसान की फाइल को बंद कर दिया है। शनिवार दोपहर पुलिस को 10 साल पहले घर से अचानक गायब व्यक्ति को दस्तयाब करके परिजन को सकुशल सौंप दिया।
मानसिक हालत ठीक नहीं होने की वजह से 42 वर्षीय व्यक्ति वर्ष 2011 में घर छोड़कर चला गया था।

10 वर्षों तक वह देश के कई धार्मिक स्थलों पर पंडित बनकर पूजा पाठ करने लगा था। लॉकडाउन में मंदिर बंद हो गए तो वह इलाहाबाद से पैदल घर लौट आया। टीआई सीताराम ध्रुव ने बताया कि ललित शुक्ला (52) निवासी ग्राम खपरी को शनिवार को उसके परिजन को सौंप दिया गया है। 1 अप्रैल 2011 को उसकी पत्नी राधाबाई शुक्ला ने पति के गुम होने की शिकायत की थी। इसके बाद से पुलिस ललित की तलाश कर रही थी।

पूजा करने के लिए उसे अलग से कमरा दिया
पूछताछ में ललित ने बताया कि वह घर से भागकर चित्रकूट चला गया था। इसके बाद वह शिर्डी, उज्जैन और बनारस में भी रहा। यहां वह पंडितों के साथ रहकर पूजा पाठ करने लगा था। लॉकडाउन के दौरान वह इलाहाबाद पहुंच गया था। लेकिन वहां भी मंदिर बंद हो गए थे। इस वजह से वह कुछ दिन पहले वहां से घर जाने के लिए पैदल निकल पड़ा था। पुलिस के मुताबिक ललित के लौटने के बाद उसकी पत्नी,बच्चे और बाकी परिजन खुश हो गए हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
मंदिर बंद होने पर लौटा ललित।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3dg57aB

0 komentar