असिस्टेंट कैशियर ने पहले अलमारी से चोरी किए 10.5 लाख रुपए; फिर रची लूट की साजिश, गिरफ्तार , October 05, 2020 at 09:37AM

छत्तीसगढ़ के कोरबा में प्राइवेट कोल कंपनी में हुई लूट का पुलिस ने 15 घंटे में खुलासा कर दिया है। रविवार देर रात पुलिस ने कंपनी के ही असिस्टेंट कैशियर को गिरफ्तार कर उसके घर से 10.5 लाख रुपए बरामद कर लिए। पुलिस इस मामले में अन्य दो आरोपियों की तलाश कर रही है। असिस्टेंट कैशियर ने ही लूट की साजिश रची थी।

कर्मचारियों को वेतन बांटने के लिए रखे थे रुपए
दरअसल, दीपका के एसईसीएल गेवरा परियोजना क्षेत्र स्थित सैनिक माइनिंग कोल ट्रांसपोर्ट कंपनी के दफ्तर में कर्मचारियों को वेतन बांटने के लिए रुपए रखे थे। शनिवार रात नकाबपोश बदमाश ऑफिस में चोरी करने घुसे। गार्ड ने देख लिया तो उसे और ड्राइवर को मारपीट कर बंधक बनाया। इसके बाद 31 लाख रुपए की लूटकर फरार हो गए।

पुलिस को पहले से ही कर्मचारियों पर था संदेह
पुलिस को मामले में पहले से ही कर्मचारियों पर संदेह था। ऐसे में रुपयों की जानकारी रखने वाले कर्मचारियों से पूछताछ की गई। इसमें असिस्टेंट कैशियर जेएल प्रसाद भी शामिल था। संदेह होने पर पुलिस ने सख्ती से उससे पूछा तो उसने वारदात कबूल कर ली। आरोपी कैशियर ने बताया कि उसने पहले ही 10.5 लाख रुपए चोरी कर लिए थे।

परिचितों से लूट कराने रकम 31 लाख बताई
पूछताछ में आरोपी असिस्टेंट कैशियर ने बताया कि उसने अपने परिचितों को लूट की साजिश में शामिल किया। इसके लिए कंपनी में रखी रकम 31 लाख रुपए ही बताई। ऐसे में लूट की रकम कम हो सकती है। आरोपी जेएल प्रसाद कंपनी में 20 साल से काम कर रहा था। पुलिस आज इस मामले में अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर सकती है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
कोरबा में प्राइवेट कंपनी में हुई लूट मामले में रविवार देर रात पुलिस ने असिस्टेंट कैशियर को गिरफ्तार कर उसके घर से 10.5 लाख रुपए बरामद किए। पुलिस इस मामले में अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है। इससे पहले पूछताछ के दौरान पुलिस ने कर्मचारियों की मिलीभगत पर संदेह जताया था।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3nhkpAm

0 komentar