शादी-ब्याह की बुकिंग शुरू, होटल कैटरिंग कारोबार 20% रिकवर; घटा 7 फेरों का समय , October 05, 2020 at 06:32AM

बैंड-बाजा-बारात पर 6 माह से लगा सरकारी लॉकडाउन भले हट गया हो, लेकिन धार्मिक लॉकडाउन अभी भी लगा हुआ है। इसकी मियाद 25 नवंबर को देवउठनी एकादशी के साथ खत्म होगी। इधर, शादी-ब्याह के कारोबार से जुड़े लोगों की जिंदगी 1 अक्टूबर को आए अनलॉक-5 के बाद धीरे-धीरे पटरी पर लाैटने लगी है। नवंबर और दिसंबर में 2 ही मुहूर्त हैं। व्यवसाय से जुड़े लोगों का कहना है कि इन दो दिनों में शादी की इतनी बुकिंग आ रही है कि 6 माह से ठप्प पड़ा होटल, टेंट, लाइट एंड डेकोरेशन का कारोबार 20% तक रिकवर हाे जाएगा।
दरअसल, अब एक आयोजन में 100 लोग या कार्यक्रम स्थल की कैपेसिटी से आधे लोग शामिल हो सकते हैं। इससे उन लोगों को बड़ी राहत मिली है शादी के लिए 6 माह से इंतजार कर रहे थे। अनलॉक-5 के बाद होटल-मैरिज पैलेस, लाइट, साउंड एंड डेकोरेशन, डीजे-धूमाल की बुकिंग फिर से शुरू हो गई है। इन व्यवसायों से जुड़े कारोबारियों का कहना है कि पहले एक शादी में पूरा दिन लग जाता था, लेकिन अब एक ही दिन में 2 से 3 शादियों के ऑर्डर ले रहे हैं। होटल कारोबारी राजेंद्र पारख ने बताया कि शादियां अब पहले की तरह सुबह से देर रात तक नहीं होंगी। लोग 4 से 5 घंटे के लिए होटल बुक करा रहे हैं। कम मेहमानों वाली इन शादियों में सारी रस्में जल्द से जल्द पूरी कराई जाएंगी।

अगले साल जुलाई तक 23 दिन शुभ मुहूर्त
नवंबर में देवउठनी से शुरू हुआ शादी का सिलसिला अगले साल जुलाई तक चलेगा। हालांकि, इस बीच भी जनवरी से मार्च के बीच ग्रहों की दशा के चलते मांगलिक कार्य प्रतिबंधित रहेंगे। जानिए कब कितने शुभ मुहूर्त...

  • नवंबर- 27 तारीख
  • दिसंबर- 10 तारीख
  • अप्रैल- 22, 24, 26, 27, 28, 29, 30
  • मई- 1, 2, 7, 8, 9, 13, 14, 21, 22, 23, 24, 26, 28, 29, 30
  • जून- 3, 4, 5, 16, 19, 20, 22, 23, 24
  • जुलाई- 1, 2, 7, 13 और 15 जुलाई काे पड़ेगा आखिरी मुहूर्त

बिजनेस के लिए कोरोना कीवैक्सीन ही ऑक्सीजन: हितेश
रायपुर टेंट लाइट कैटरिंग एसोसिएशन के सचिव हितेश रायचुरा ने कहा कि कोरोना की वैक्सीन ही हमारे बिजनेस के लिए ऑक्सीजन है। हालांकि, अनलॉक 5 आने से थोड़ी बहुत राहत जरूर मिली है। लोग कम मेहमानों वाली शादियां करने की तैयारी कर रहे हैं। इसके चलते बड़े खर्चों में कटौती भी कर रहे हैं। घोड़ा-बग्घी वालों पर रोजी-रोटी की समस्या अब भी जस की तस है। नवरात्रि और इसके बाद पड़ने वाले त्योहारों से कारोबार में तेजी आने की उम्मीद है।

शादी में पहले 600-1000 लोग आते थे, अब 150 आएंगे: होरा
छत्तीसगढ़ होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष तारणजीत सिंह होरा का कहना है कि मार्च से कारोबार बिल्कुल ठप्प पड़ा था। अब बुकिंग आनी शुरू हुई है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए लोग ज्यादा मेहमान बुलाने से कतरा रहे हैं। पहले एक शादी में400 से 100 लोग आते थे तो अब 100-150 ही शामिल हो पाएंगे। नवंबर-दिसंबर में वैसे भी कम मुहूर्त हैं। उम्मीद है कि अप्रैल में शादियों का जो सीजन शुरू होगा, उसके बाद स्थिति थोड़ी बेहतर हो पाएगी।

6 माह में 5 हजार से ज्यादा शादियां कैंसिल हुईं: होस्केरे
ज्योतिषाचार्य डॉ. दत्तात्रेय होस्केरे ने बताया कि साल 2020 के ज्यादातर मुहूर्त अप्रैल, मई और जून में थे। इस दौरान लॉकडाउन था। ज्यादातर लोगों ने अपनी शादियां टाल दी। कई समाज भी सामूहिक विवाह के बड़े आयोजन करते हैं। ये सारे आयोजन भी टल गए। मार्च से अब तक करीब 5 हजार से ज्यादा शादियां टल चुकी हैं। नवंबर-दिसंबर में भी कम मुहूर्त होने की वजह से ज्यादातर शादियों के टलने की आशंका है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
प्रतीकात्मक फोटो।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3d5waoX

0 komentar