जिओ मार्ट की फ्रेंचाइजी के नाम पर 25 हजार से ज्यादा की ठगी; रुपए ट्रांसफर करने के बाद पता चला वेबसाइट फर्जी , October 29, 2020 at 01:06PM

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में जिओ मार्ट की फ्रेंचाइजी लेने के नाम पर एक युवक से 25 हजार रुपए से ज्यादा की ठगी हो गई। ठगों ने एप्रूवल लेटर भेजकर रजिस्ट्रेशन के लिए रुपए ट्रांसफर कराए। इसके बाद एग्रीमेंट के लिए 80 हजार रुपए और मांगे। शक होने पर जब युवक रिलायंस के ऑफिस पहुंचा तो पता चला कि वेबसाइट ही फर्जी है। मामला सरकंडा थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, त्रिवेणी नगर, जबड़ापारा निवासी विवेक ताम्रकर ने 23 अक्टूबर को जीओ मार्ट की फ्रेंचाइजी लेने के लिए jiomart-franchise.in साइट पर आवेदन किया था। थोड़ी देर बाद कॉल आई और अपना नाम अंकित राय बताया। इसके बाद वॉट्सऐप के जरिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, जीएसटी पंजीयन, वोटर आईडी और दो पासपोर्ट साइज फोटो मांगे। इस पर विवेक ने अपने पिता विजय ताम्रकर के दे दिए।

एग्रीमेंट फार्म भरने के बाद 80 हजार रुपए और मांगे
इसके बाद आरोपियों ने एक अप्रूवल लेटर भेजा और पंजीकरण के नाम पर 25800 रुपए पीएनबी की शाखा में जीओ मार्ट लिमिटेड के एकाउंट में जमा करने को कहा। विवेक ने रुपए ट्रांसफर कर दिए तो उन्होंने इनवाइस और एक एग्रीमेंट फार्म भेजा। उसे भरने के बाद 80 हजार रपुए और मांगे। इस पर विवेक को संदेह हुआ तो वह रिलायंस ऑफिस पहुंचा। वहां पता चला कि वह साइट ही फर्जी है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में जिओ मार्ट की फ्रेंचाइजी लेने के नाम पर एक युवक से 25 हजार रुपए से ज्यादा की ठगी हो गई। ठगों ने एप्रूवल लेटर भेजकर रजिस्ट्रेशन के लिए रुपए ट्रांसफर कराए।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3jEBYY0

0 komentar