ड्रग्स के धंधे के तार गोवा-मुंबई से जुड़े, वहां के 3 बड़े पैडलर से कनेक्शन, तलाश शुरू , October 17, 2020 at 06:22AM

राजधानी में ड्रग्स के धंधे के तार अंतत: मुंबई और गोवा के पैडलर्स से जुड़ गए हैं। यहां गिरफ्तार पैडलर्स के छह माह काॅल और चैट डीटेल्स की पड़ताल में पुलिस को मुंबई-गोवा के 3 बड़े पैडलर के नंबर मिल गए हैं, जो यहां ड्रग्स सप्लाई करनेवालों के लगातार संपर्क में थे। यह सारी काॅल और चैटिंग 28 सितंबर के बाद से बंद है। बातचीत इंटरनेट काॅल पर भी हुई है। रायपुर पुलिस ने अब इन तीनों नंबरों पर फोकस कर लिया है। इस मामले में पुलिस नशे के मूल कारोबार के स्त्रोत तक जाने की तैयारी कर रही है।
एसएसपी अजय यादव ने बताया कि ड्रग्स मामले की जांच के लिए प्रशिक्षु आईपीएस अंकिता शर्मा के नेतृत्व में टीम बनाई गई है। यह टीम आधा दर्जन बिंदुओं पर काम कर रही है। तकनीकी जांच में लगाई गई टीम आरोपियों के मोबाइल फोन की जांच कर रही है। दूसरी टीम सीधे जांच और गिरफ्तारियों पर फोकस है। यही टीम पकड़े गए पैडलर्स और ड्रग्स का इस्तेमाल करनेवालों से पूछताछ भी कर रही है और मिली जानकारियों पर छापे मार रही है। यही टीम कार्रवाई के लिए जल्द ही मुंबई और गोवा भेजी जा सकती है। इसके अलावा लोकल कनेक्शन पर एक और टीम लगी है, जो रोजाना तीन-चार लोगों से पूछताछ कर रही है, जो गिरफ्तार पैडलर्स के संपर्क में थे।

तीन पैडलर की पुलिस को तलाश: पुलिस रायपुर के तीन पैडलर की तलाश कर रही हैं, जिनका श्रेयांस और विकास से सीधा कनेक्शन हैं। तीनों युवक फरार है। पुलिस ने उनकी तलाश में कई जगह छापे भी मारे गए, लेकिन तीनों नहीं मिले। पुलिस को रायपुर-भिलाई की दो युवतियों का ड्रग्स मामले में सीधा कनेक्शन मिला है। सोशल मीडिया में आरोपियों के साथ फोटो भी वायरल हो रही है। पुलिस दोनों युवतियों के खिलाफ सबूत जुटा रही है। पुख्ता सबूत मिलने पर पुलिस दोनों युवतियों पर कार्रवाई करेगी। इस मामले में 40 से ज्यादा लोगों की भूमिका की जांच की जा रही हैं।

गोवा पुलिस ने नहीं किया संपर्क
इस मामले में दैनिक भास्कर ने गोवा पुलिस के एक अधिकारी से बातचीत की। उन्होंने बताया कि गोवा में ड्रग्स की स्मगलिंग विदेशी ही कर रहे हैं। लोकल लोग एजेंट या पैडलर के रूप में ही काम करते हैं। गोवा पुलिस हर साल 15 करोड़ से ज्यादा का ड्रग्स पकड़ रही है। जो लोग बाहर से ड्रग्स खरीदने आते हैं, वह भी गिरफ्तार होते हैं। हालांकि गोवा पुलिस का कहना है कि अभी रायपुर पुलिस ने उनसे संपर्क नहीं किया है। गोवा के अफसरों ने बताया कि नाइजीरियन समेत कई विदेशी गिरोह ड्रग्स के काम में लगे हैं। ये गिरोह होटल-रेस्टोरेंट में सक्रिय हैं और बाहरी लोगों को ही पावडर बेचते हैं।

होटल-रेस्टोरेंट में पड़ेंगे पुलिस छापे
पुलिस ने होटल-रेस्टोरेंट में कार्रवाई करने के लिए स्पेशल टीम बनाई है। यह टीम कभी भी किसी भी होटल में रेड कर सकती हैं। वहां कमरों से लेकर पार्टी हॉल में जांच करने का अधिकार होगा। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि समय-समय पर होटल, रेस्टोरेंट, बार और ढाबों की जांच की जाएगी। जो भी नशे का कारोबार करते पाए जाएंगे, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। पुलिस की पड़ताल में खुलासा हुआ है कि ज्यादातर होटल-रेस्टोरेंट में हुक्का के आड़ पर गांजा पिलाया जा रहा हैं। नाबालिगों को भी फ्लेवर के नाम पर गांजा परोसा जा रहा है और टेबल का चार्ज 500-1000 रुपए तक लिया जा रहा है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Drug trade links connected to Goa-Mumbai, connection with 3 big paddlers, search started


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2T1mfrl

0 komentar