आरंग की शराब दुकान में डकैती करने वाले 3 बदमाश गिरफ्तार, इनका मास्टर माइंड महासमुंद में भी कर चुका है ऐसी ही वारदात , October 22, 2020 at 07:18PM

रायपुर पुलिस ने आरंग के गुल्लू स्थित शराब दुकान में डकैती करने वाले गैंग को पकड़ लिया। इस गैंग के मास्टर माइंड को महासमुंद पुलिस ने पहले ही वहां हुई लूट के मामले में पकड़ रखा है। मुख्य आरोपी का नाम विजय मनहरे है। इसके तीन साथियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। अगस्त के महीने में इस वारदात को अंजाम दिया गया था। आरोपियों ने शराब दुकान से 9 लाख से अधिक रकम लूट ली थी। दुकान के सुरक्षागार्ड को भी आरोपियों ने पीट-पीट कर घायल कर दिया था। शिकायत मिलते ही पुलिस ने इस केस की छानबीन शुरू कर दी थी अब जांच टीम को कामयाबी मिली है।


ऐसे आए पकड़ में
पुलिस के मुताबिक हाल ही में पकड़े महासमुंद में पकड़े गए विजय से इस मामले में पूछताछ करने पुलिस महासमुंद गई थी। मगर विजय ने खुद को इस मामले में से अलग करते हुए घटना से साफ इंकार कर दिया। जांच टीम को थाना खरोरा के देवगांव के रहने वाले विनोद डहरिया के बारे में पता चला। इसने भी पुलिस को गुमराह करने की कोशिश में झूठ बोला। बाद में इसने बताया कि कुल 5 लोगों ने मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया है। विनोद ने ही खुलासा किया कि इस कांड का मास्टर माइंड महासमुंद पुलिस की गिरफ्त में रह रहा विजय ही है। विजय मनहरे महासमुंद के गाड़ाघाट स्थित शराब दुकान में काम कर चुका है। लेकिन उसे काम से निकाल दिया गया था। इसका बदला लेने उसने वहां भी लूट की घटना को अंजाम दिया।


जिसके पास डकैती का माल छुपाया उसने जान दे दी
जब विजय महासमुंद की दुकान में काम करने जाता था तो रास्ते में गुल्लू की शराब दुकान भी पड़ती थी। उसे अंदाजा था कि सुनसान इलाके में बनी शराब दुकान में किस स्तर पर रकम रखी होती है। विजय मनहरे ने अपने साथी धनीराम धृतलहरे के साथ मिलकर लूट की योजना बनाई। बाद में विनोद डहरिया, देवप्रकाश पारधी और सदाबृज पारधी को भी प्लान में शामिल किया। गुल्लू की दुकान के बाहर तीन दिन पहले रेकी की गई। यह देखा गया कि कहां सीसीटीवी का डीवीआर रखा है और बिजली का कनेक्शन कहां है। घटना वाले दिन आरोपियों ने दुकान में धावा बोल दिया और लॉकर समेत रूपए लूटकर भाग गए। लॉकर को आरोपियों ने अपने साथी अग्रभूषण के घर पर रखा। मगर इस मामले में जब आरोपी महासमुंद पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिए गए तब अग्रभूषण के सुसाइड करने की खबर आई। इस मामले की भी पुलिस जांच कर रही है।


चोरी के पैसों से खरीदी नई-नई चीजें
पुलिस ने जांच में पाया कि आरोपी विनोद डहरिया, देव प्रसाद पारधी उर्फ देवा और सदाबृज पारधी ने चोरी की रकम से शॉपिंग कर रखी थी। इनके पास से डकैती के 1 लाख 10 हजार रुपए, डकैती की रकम से खरीदी 3 बाइक, 1 एल ई डी टीवी, 2 मोबाईल फोन, 1 होम थियेटर, 1 मिक्सी और 1 कूलर बरामद हुआ है। आरोपी विजय मनहरे और धनीराम धृतलहरे को महासमुंद पुलिस ने वहां की दुकान में लूट के मामले में गिरफ्तार पहले ही कर लिया था। अब इनके खिलाफ गुल्लू की दुकान में डकैती का केस भी चलेगा। आरोपी धनीराम की पत्नी की मौत कुछ समय पहले जलने की वजह से हो चुकी है। धमतरी में भी एक शराब दुकान में लूट हुई थी, इस केस से जोड़कर भी आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फोटो रायपुर पुलिस कंट्रोल रूम की है। डकैतों से धमतरी में भी हुई ऐसी वारदात के बारे में भी पुलिस पूछताछ कर रही है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/35oqumv

0 komentar