इंस्टाग्राम पर किडनैपर ने बनाई थी लड़की की फेक आईडी, मैसेज कर युवक को बुलाया और उठा ले गए, 3 आरोपी गिरफ्तार , October 22, 2020 at 09:14PM

रायपुर पुलिस ने तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया। इन पर बुधवार की रात शहर के कपड़ा कारोबारी के बेटे को किडनैप करने और 30 लाख की फिरौती मांगने का आरोप है। किडनैपर ने कारोबारी के बेटे से इंस्टाग्राम में लड़की की फेक आइडी बनाकर दोस्ती की। इसी आईडी से मैसेज कर युवक को मिलने बुलाया और बुधवार की रात शंकर नगर स्थित प्रिज्म मेडिकल के सामने से अपहरण कर अपने साथ ले गए। रायपुर पुलिस लगातार शहर में कानून व्यवस्था दुरस्त करने मुस्तैदी बरतने का दावा कर रही है। हालांकि गुरुवार की दोपहर तक सभी पुलिस की गिरफ्त में थे। पुलिस ने आरोपियों के पास से पुलिस ने कार, स्कूटर, फर्जी नंबर प्लेट, रस्सी चाकू भी बरामद किए हैं।

इस युवक का नाम आमिर सोहेल है, इसे ही किडनैपर अपने साथ ले गए थे।

पापा मुझे बचा लो
मो हनीफ ने सिविल लाईन थाने में शिकायत दर्ज करवाई। हनीफ के जीजा मो युनुस के बेटे आमिर सोहेल को ही किडनैपर अपने साथ लेकर गए थे। बुधवार रात को करीब 11 बजकर 44 मिनट पर एक फोन आया। कॉल करने वाले ने कहा कि हमनें तुम्हारे बेटे आमिर सोहेल को गिरफ्तार किया है। 30 लाख रुपये दोगे तो सोहेल को छोड़ देंगे। इसके बाद सोहेल से भी युनुस ने बात की। सोहेल ने कहा कि पापा मुझे इन लोगों से बचा लो, मुझे किडनैप किया गया है। मुझे ये लोग मार डालेंगे। मेरी आंख में पट्टी बांधी है, एक कार में मुझे बैठाया है, कहां ले जा रहे हैं समझ नहीं आ रहा। फौरन इसकी शिकायत सिविल लाइंस पुलिस से की गई और जांच शुरू हुई।


पूरा फिल्मी एक्शन ऐसे हुआ
एसएसपी अजय यादव ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर लखन पटले, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध अभिषेक माहेश्वरी, नगर पुलिस अधीक्षक सिविल लाईन नसर सिद्धकी, प्रभारी सायबर सेल रमाकांत साहू और थाना प्रभारी सिविल लाईन आर.के.मिश्रा को इस केस को सॉल्व करने में लगाया। इस बीच आरोपियों ने फिरौती के लिए फिर फोन किया। रुपए वालफोर्ट सिटी भाठागांव पास आकर देने को कहा। पुलिसकर्मी बच्चे का रिश्तेदार बनकर गया। पुलिस टीम के लोग दूर से नजर बनाए हुए थे। आरोपी आमीन अली होंडा डीयो मैं वहां पहुंचा। टीम ने इसे दबोच लिया।


सभी आरोपी रायपुर के
आमीन ने बताया कि वो मौदहापारा रायपुर का रहने वाल है। उसने बताया कि रायपुर से कुछ दूर घटारानी रोड के जंगल में युवक को रखा गया है। इस बीच आरोपियों को इस बात की भनक लग चुकी थी कि उन्हें पकड़ने पुलिस टीम रवाना आ रही है। आरोपी स्विफ्ट कार में भागने लगे। पुलिस ने इनका पीछा किया। एक आरोपी कार से कूदकर भाग गया। कार में सवार आरोपी पीयूष रायचूरा और फ्रांसीस मांझी को पुलिस ने गिरफ्तार किया। आमिर सोहेल को इनके कब्जे से छुड़ाया गया।


लड़की का चक्कर
आरोपी पूरी रात आमिर को कार में लेकर रायपुर से धमधा, गण्डई, छुईखदान, खैरागढ़, राजनांदगांव, बालोद, धमतरी, आरंग घुमाते हुये गरियाबंद मार्ग वाले जंगल में ले गये थे। इस बीच उनकी गाड़ी को पहचान ना सके इसलिए थोड़ी-थोड़ी देर में रुककर गाड़ी का नंबर प्लेट बदल रहे थे। फरार आरोपी का नाम रोहन उर्फ संदीप बताया जा रहा है। उसकी तलाश भी पुलिस कर रही है। आरोपियों ने काफी दिनों से इस किडनैपिंग की प्लानिंग कर रखी थी। वो जानते थे कि आमिर संपन्न परिवार से है। इसलिए इंस्टाग्राम में लड़की बनकर उससे चैटिंग शुरू की और फिर घटना को अंजाम दिया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी। इनसे अपहरण के केस के बारे में पूछताछ की जा रही है। इनके चंगुल से छुड़ाकर युवक को घेर भेज दिया गया है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Tfci9F

0 komentar