दुर्ग की महिला ना एटीएम गई, ना ऑनलाइन ट्रांजेक्शन किया, फिर भी बैंक खाते से निकल गए 4.5 लाख , October 23, 2020 at 03:14PM

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में एक महिला के बैंक खाते से 4.5 लाख रुपए निकल गए। शातिर ठगों ने 12 दिन में किश्तों में यह रकम खाते से निकाल ली। खास बात यह है कि इतने दिनों में महिला ने ना एटीएम का इस्तेमाल किया और ना ही ऑनलाइन ट्रांजेक्शन ही किया। महिला अपनी पासबुक में इंट्री करवाने के लिए बैंक गई तो उसे ठगी का पता चला। मामला जामुल थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, सुंदर विहार कालोनी निवासी दीपमाला गेदाम पत्नी विनोद गेदाम का कैलाश नगर स्थित देना बैंक की शाखा में खाता है। वह 13 अक्टूबर को बैंक अपने पासबुक में इंट्री कराने के लिए गई थीं। कर्मचारी ने इंट्री के बाद पासबुक दी तो पता चला कि 4.5 लाख रुपए खाते से निकले हैं। उन्होंने बैंक मैनेजर से संपर्क किया तो बताया कि ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के जरिए रुपए निकाले गए।

मोबाइल पर 2-3 माह से बैंक संबंधित कोई मैसेज भी नहीं आया
यह रकम किश्तों में 31 जुलाई से 12 अक्टूबर के बीच निकाली गई है। महिला का कहना है कि इस दौरान उसने कोई ट्रांजेक्शन नहीं किया। ना ही रुपए निकाले जाने और अन्य कोई संबंधित मैसेज पिछले 2-3 माह से उसके पास मोबाइल पर आया है। महिला ने साइबर ठगी की आशंका जताते हुए शिकायत दी है। पुलिस ने जांच कर करीब 10 दिन बाद एफआईआर दर्ज कर ली है।

बैंक स्तर पर तय होता है मैसेज आएगा या नहीं

यदि किसी बैंक ग्राहक को खाते के लेनदेन का एसएमएस अलर्ट नहीं मिल रहा है तो उसे तुरंत अपनी ब्रांच में संपर्क करना चाहिए। दरअसल, स्थानीय स्तर से ही यह तय होता है कि बैंक एकाउंट को एसएमएस अलर्ट से जोड़ा गया है या नहीं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
छत्तीसगढ़ के दुर्ग में एक महिला के बैंक खाते से 4.5 लाख रुपए निकल गए। शातिर ठगों ने 12 दिन में किश्तों में यह रकम खाते से निकाल ली। खास बात यह है कि इतने दिनों में महिला ने ना एटीएम का इस्तेमाल किया और ना ही ऑनलाइन ट्रांजेक्शन ही किया।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/35lnpUk

0 komentar