बच्चों के झगड़े में दो परिवारों के बीच खूनी संघर्ष, जानलेवा हमले में 7 घायल, दो गंभीर , October 31, 2020 at 06:57AM

मिनी बस्ती में बच्चों के झगड़े ने बड़ा रूप ले लिया और दो परिवार के लोग आपस में भिड़ गए। उन्होंने एक दूसरे पर रॉड,लाठी,पाइप व ईंट पत्थर से जानलेवा हमला कर दिया, जिससे 7 लोग घायल हो गए। इनमें से दो की हालत गंभीर है। उन्हें सिम्स में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने इस मामले में दोनों पक्षों के खिलाफ एक दूसरे की रिपोर्ट पर बलवा व हत्या के प्रयास की धाराओं के तहत जुर्म दर्ज किया गया है।

पहले पक्ष की एफआईआर
पहली एफआईआर विनय पिता निरंजन घृतलहरे 30 वर्ष की ओर से दर्ज कराई गई है। दर्ज एफआईआर के अनुसार वह राजमिस्त्री है। शुक्रवार की सुबह करीब 9 बजे उसके साले रामलखन का बेटा अंशुल से देवा के भांजे सांतनु से विवाद हो रहा था। इस बात को लेकर देवा, राजू, राजकुमार, देवा का जीजा पन्ना घृतलहरे, राजकुमारी, शिवकुमारी, सतकुमारी, संतकुमारी, संगीता, सूरजा, प्रियंका, अमित ने रॉड, डंडा व लोहे की पाइप से हमला कर दिया। उन्होंने हत्या करने की नीयत से वार कर दिया। इससे चोटें लगी। घर में घुसकर उन्होंने संतोषी बंजारे से भी मारपीट की। रामलखन आया तो देवा उसे पकड़ लिया और राजू ने उसके सिर पर डंडा से वार किया और संत कुमारी, प्रियंका, शिवकुमारी ने ईंट फेंककर मारा। विजय के अनुसार देवा, राजकुमार, राजू, अमित ने दरवाजे को लात मारकर तोड़ा फिर घर के भीतर घुसकर उन्होंने मारपीट की। आरोपियों का परिवार पहले से भी लड़ाई झगड़ा करते आ रहा है। विनय की रिपोर्ट पर पुलिस ने देवा बंजारे, राजू, राजकुमार आदि के खिलाफ धारा 147 148 149, 307, 323, 186, 452 के तहत जुर्म दर्ज किया है।

दूसरे पक्ष की एफआईआर
दूसरे पक्ष से राजकुमारी पति पन्ना लाल घृतलहरे 26वर्ष ने एफआईआर दर्ज कराई। उसके अनुसार वह झाड़ू पोछा का काम करती है। शुक्रवार की सुबह करीब 9 बजे उसका बेटा सांतनु घृतलहरे 10 वर्ष का विवाद रामलखन के बेटे अंशुल से हुआ था। अंशुल ने उसके बेटे के पैर के अंगूठे में पत्थर मार दिया। सतकुमारी बंजारे दोनों बच्चो को समझाई फिर अंशुल के पिता रामलखन पाइप लेकर आया और उसकी बहन सतकुमारी के सिर को हत्या करने की नीयत से मारा। इससे चोट लगी। राजकुमारी की छोटी बहन संगीता आई और पूछा क्या हो गया तो रामलखन का दमाद विनय ने उसे लोहे के पाइप से मारा। जिससे उसे चोंटे लगी। इस बीच रामलखन का बड़ा भाई धन्नू रॉड लेकर आया और सूरजा बाई के सिर पर वार किया। राजकुमारी और उसकी बेटी प्रियंका, सुंमत, देवा बंजारे, सतकुमारी, संतकुमारी, संगीता बीच बचाव के लिए गए तो रामलखन, धन्नू, विनय ने जान से मारने की धमकी दी और हत्या करने की नीयत से उनलोगों पर हमला कर दिया। राजकुमार के अनुसार उसकी बहन सतकुमारी, संगीता, सांतनु को अधिक चोंट लगी। उन्हें अस्पताल मे भर्ती कराया गया है। पुलिस ने राजकुमारी की रिपोर्ट पर आरोपी रामलखन बंजारे, विनय, धन्नू के खिलाफ 294, 307,34 345, 506 के तहत जुर्म दर्ज किया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
दोनों पक्ष से गिरफ्तार किए गए आरोपी।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2HQjfMr

0 komentar