दो आईईडी ब्लास्ट में दंपति घायल; नक्सलियों ने 8 घंटे से बना रखा है बंधक, इलाज नहीं मिलने पर एक व्यक्ति की मौत , October 10, 2020 at 06:41AM

दंतेवाड़ा में नक्सलियों के लगाए प्रेशर आईईडी की चपेट में आकर शुक्रवार सुबह दंपति घायल हो गए। वहीं उसी रास्ते में हुए 10 किलो के एक और आईईडी ब्लास्ट में एक व्यक्ति की मौत हो गई। ग्रामीण घायल दंपति को लेकर अस्पताल आ रहे थे, लेकिन नक्सलियों ने उन्हें रोक लिया और करीब 8 घंटे से बंधक बनाए हुए हैं। घटना की पुष्टि एसपी दंतेवाड़ा अभिषेक पल्लव ने की है।

आईईडी विस्फोट में आकर घायल हुई महिला। नक्सलियों ने ग्रामीणों को अभी तक बंधक बना रखा है। महिला की पहचान छिपाने के लिए फोटो ब्लर की गई है।

कटेकल्याण थाना क्षेत्र के गुडसे गांव निवासी दंपति कोसी कवासी और हूंगा कवासी शुक्रवार सुबह करीब 8 बजे रिश्तेदार से मिलने के लिए टेटम गांव जा रहे थे। इसी दौरान रास्ते में अपूपारा से टेटम के बीच प्रेशर आईईडी विस्फोट की चपेट में आकर दोनों घायल हो गए। इस पर ग्रामीण उन्हें अस्पताल ले जाने लगे, लेकिन नक्सलियों ने सभी को रोक लिया। इसके बाद से ही उन्हें बंधक रखा गया है।

उसी रास्ते पर दोपहर में हुआ दूसरा विस्फोट, एक की मौत

बताया जा रहा है कि उसी रास्ते पर दोपहर में एक और आईईडी विस्फोट हुआ है। इसकी क्षमता करीब 10 किलो की थी। इसकी चपेट में आकर एक ग्रामीण की मौत हो गई। उसकी पहचान अपूपारा गांव निवासी पांडू मंडावी के रूप में हुई है। फिलहाल जवानों को मौके पर रवाना किया गया है। उनके लौटने के बाद ही ज्यादा जानकारी सामने आ सकेगी। बंधक बनाए गए लोगों की हालत गंभीर है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में प्रेशर आईईडी की चपेट में आकर शुक्रवार सुबह एक दंपति घायल हो गए। ग्रामीण दोनों को अस्पताल लेकर आ रहे थे, लेकिन नक्सलियों ने रोक लिया। इसके चलते पति की मौत हो गई।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2I718S5

0 komentar