राजधानी में बनेगा गांधी म्यूजियम, बापू की जिंदगी देख सकेंगे तस्वीराें में, यहां उनसे जुड़ी हर किताब भी हाेगी , October 02, 2020 at 05:52AM

मनीष मिश्रा । छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड शहर में गांधी म्यूजियम बनवा रहा है। कंकाली पारा स्थित केयूर भूषण स्मृति कैंपस, गांधी भवन के फर्स्ट फ्लोर में लगभग 10 लाख रुपए की लागत से म्यूजियम बनाया जाएगा।
म्यूजियम के डेकोरेशन पर 5 लाख 81 हजार चार सौ पचपन रुपए और किताब खरीदने के लिए 4 लाख 4 हजार चार सौ पच्चासी रुपए स्वीकृत किए जा चुके हैं। बोर्ड के एमडी राजेश सिंह राणा ने बताया कि गांधी म्यूजियम में गांधी से जुड़ी किताबें और उनके दैनिक उपयोग की वस्तुओं को प्रदर्शित किया जाएगा। इसे बनाने का मकसद युवाओं काे गांधीजी की जिंदगी, उनके आदर्शाें, जीवन दर्शन से वाकिफ कराना है। छत्तीसगढ़ से जुड़ी गांधी जी की यादों को भी यहां सहेजा जाएगा। म्यूजियम का शिलान्यास आज गांधी जयंती पर हाेगा। इसी के साथ खादी ग्रामोद्योग बोर्ड की वेबसाइट और एप भी लाॅन्च किया जाएगा।

युवाओं को गांधी जी के बारे में बताने की कोशिश
खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के एमडी राजेश सिंह राणा ने बताया कि म्यूजियम और लाइब्रेरी बनाने का मकसद युवाओं को गांधी दर्शन के बारे में बताना है। यहां पर गांधी जी के जीवन से जुड़ी सभी किताबें उपलब्ध रहेंगी। म्यूजियम में उनके जीवन की उपयोगी वस्तुओं को भी प्रदर्शित किया जाएगा। म्यूजियम का काम नवंबर के पहले हफ्ते तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। बिल्डिंग में म्यूजियम एरिया पहले से ही तैयार है। यहां सिर्फ डेकोरेशन करना, गांधीजी के जीवन से जुड़ी चीजें रखना और किताबें मंगाने का काम बाकी है।

अहमदाबाद से सामान खरीदेंगे, एंट्री होगी फ्री
म्यूजियम की दीवाराें पर चारों तरफ गांधी जी से जुड़ी फाेटाेज और पेंटिंग लगाएंगे। गांधी जी के इंग्लैड से पढ़ाई करके भारत वापस लौटने, असहयोग आंदोलन शुरू करने, डांडी यात्रा निकालने सहित पूरी जीवन यात्रा फाेटाेज से दिखाने की कोशिश की जाएगी। म्यूजियम के लिए गांधीजी के जीवन से जुड़े सामान अहमदाबाद से खरीदे जाएंगे। म्यूजियम में एंट्री फ्री हाेगी। हर उम्र के व्यक्ति यहां गांधीजी के जीवन से रूबरू हाेने पहुंच सकेंगे।

मंत्रालय कैंपस में नजर आएगी ध्यान मुद्रा में बैठे गांधीजी की मूर्ति, अनावरण आज
नया रायपुर स्थित मंत्रालय कैंपस में ध्यान मुद्रा में बैठे महात्मा गांधी की मूर्ति स्थापित की जा रही है। इसे पद्मश्री जेएम नेलसन और रामशरण प्रजापति ने मिलकर 25 दिन में तैयार किया है। पौने छह फीट लंबी मूर्ति की लागत लगभग ढाई लाख है। मूर्ति का वजन लगभग 2000 किलोग्राम है। मूर्ति का अनावरण आज गांधी जयंती पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ऑनलाइन करेंगे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Gandhi Museum to be built in the capital, Bapu's life will be seen in pictures, here every book related to him will also be there


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2SlsSUQ

0 komentar