ग्रामीण तय करेंगे अपने क्षेत्र का विकास कार्य , October 04, 2020 at 05:47AM

ग्राम पंचायत विकास योजना (जीपीडीपी) के तहत वित वर्ष 2021-22 में ग्रामीण अंचल पर कराए जाने वाले विकास कार्य की रूप-रेखा ग्रामीण अपने ग्राम सभा के माध्यम से तय करेंगे। सबकी योजना सबका विकास की भावना अनुरूप ग्राम सभा में तय किया जाएगा की गांव के विकास के लिए कौन-कौन से कार्य किए जा सकते। जिले के जनपद पंचायत कवर्धा क्षेत्र के सभी 105 ग्राम पंचायतों के लिए 15 अक्टूबर से 30 दिसंबर तक ग्राम सभा का आयोजन किया जाएगा। इसी तरह जनपद पंचायत बोड़ला के 123 ग्राम पंचायतों के लिए 15 अक्टूबर से 23 दिसंबर तक ग्राम सभा का आयोजन किया जाना प्रस्तावित है। जनपद पंचायत सहसपुर लोहारा के 96 ग्राम पंचायतों में और जनपद पंचायत पंडरिया के

144 ग्राम पंचायतों में 15 अक्टूबर से प्रारंभ होकर क्रमशः 28 और 30 दिसंबर ग्राम सभा आयोजित होगा। जिले के सभी 468 ग्राम पंचायतों में विशेष ग्राम सभा का आयोजन होगा।

कोरोना संक्रमण के रोकथाम के नियम का पालन करना जरुरी : जारी आदेश में सभी ग्राम पंचायतों के लिए विशेष ग्राम सभा आयोजन के लिए तिथिवार कैलेंडर जारी किया गया है, जिसमें शासन के 29 विभाग मिलकर सबकी योजना सबका विकास के लिए ग्रामीणों के साथ मिलकर कार्य योजना तैयार करेंगे। जिसमें ग्राम सभा आयोजन के दौरान कोरोना के बचाव के लिए शासन के निर्देशानुसार फिजिकल डिस्टेंसिंग के साथ मास्क अथवा गमछा से अपना मूहं-नाक को ढक कर ग्रामीणों की उपस्थिति सुनिश्चित की जाएगी। साथ ही आवश्यकता अनुसार सेनेटाइजर एवं हाथ धोने के लिए साबुन आदि की व्यवस्था करने के लिए कहा गया है। प्रत्येक जनपद पंचायत में 5-5 वर्चुअल ग्राम सभा आयोजित करने के निर्देश जनपद पंचायतों को दिए गए है। ग्राम पंचायत विकास योजना से जुडे़ सभी विभागों के मैदानी अमले मौजूद रहेंगे।

मास्टर ट्रेनर्स को दिया गया प्रशिक्षण

जिला पंचायत सीईओ विजय दयाराम के. ने बताया कि शासन द्वारा जारी समय सारणी के अनुसार वित्त वर्ष 2021-22 के लिए ग्राम पंचायत विकास योजना का कार्य जिले में चल रहा है। इसके तहत जिले में नोडल अधिकारी के नियुक्ति से लेकर मास्टर ट्रेनरों का प्रशिक्षण आयोजित किया जा चूका है। ग्राम पंचायतों में इस कार्य को संपादित करने के लिए संबंधित सचिव और ग्राम रोजगार सहायक को फेसिलेटर के रूप में नियुक्त किया गया है, जो मिशन अंत्योदय सर्वे और ग्राम सभा के आयोजन को पूरा करेंगे। उन्होंने बताया कि केन्द्र और राज्य शासन के निर्देशानुसार 29 विभाग साथ मिलकर योजना निर्माण को अंतिम रूप देंगे। इसमें स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) एवं अन्य योजना के संबंध में विस्तार से चर्चा की जाएगी। ग्राम सभा के पहले पंचायत की सम्पूर्ण जानकारी जिसमें परिसम्पत्तियों से लेकर उपलब्ध संसाधनों की जानकारी एकत्रित कर ग्रामीणों के समक्ष ग्राम सभा में रखा जाएगा। इसके बाद ग्राम सभा में वित्त वर्ष 2021-22 के लिए ग्रामीण एक साथ मिलकर कार्य योजना को अंतिम रूप प्रदान करेंगे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3lc9C8M

0 komentar