पुलिस जवानों पर रेप और ग्रामीणों का सामान लूटने का आरोप लगाया, लिखा- आदिवासियों को उनके इलाकों से खदेड़ा जा रहा है , October 06, 2020 at 06:34AM

माओवादियों के पश्चिम बस्तर डिवीजन कमेटी ने एक पर्चा जारी किया है। इसमें लिखा है- नक्सल उन्मूलन के नाम पर मूल आदिवासी उन्मूलन किया जा रहा है। आदिवासियों को बस्तर के इलाकों से खदेड़ा जा रहा है। नक्सलियों ने इस पर्चे में पुलिस पर लूटपाट का भी आरोप लगाया है। पीड़िया, अंड्री, डोडी तुमनार नाम की पंचायातों का नाम लिखकर नक्सलियों ने कहा है कि यहां से डीआरजी के जवानों ने 77 हजार रुपए, राशन, शराब, मांस, अंडे वगैरह लूटे हैं।

पर्चे में 19 सितंबर की तारीख का जिक्र करते हुए लिखा गया है कि बोगामुड़गा गांव में एक नाबालिग का अर्जुन तेलम नाम के जवान ने बलात्कार किया है। गांव के लड़कों को फंसाया जा रहा है। बस्तर के अमूल्य खनिज संपदा को देशी-विदेशी कारपोरेट घरानों को बेचा जा रहा है। इस पर्चे में अडानी, टाटा, एस्सार कंपनियों को दी गई खदानों का भी जिक्र है।

पर्चे में बीजापुर के डॉ. पुजारी का नाम लिखा है,। इस डॉक्टर पर नक्सलियों ने शांती नगर की ग्रामीण की किडनी निकालने का आरोप लगाया है। बस्तर पुलिस ने इन तमाम आरोपों को ग्रामीणों को भटकाने की चाल करार दिया है। सभी आरोपों को फर्जी बताया गया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
नक्सलियों ने पर्चा कमेटी के सचिव मोहन के नाम से जारी किया है। बस्तर पुलिस ने इसे जारी करने वाले नक्सलियों की तलाश शुरू कर दी है। सिंबॉलिक फोटो।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3jy3K9J

0 komentar