दुर्ग सांसद विजय बघेल का अनशन देर शाम से जारी, कहा- केस वापस होने तक नहीं उठेंगे; लोअर कोर्ट ने तीनों नेताओं की जमानत खारिज की , October 15, 2020 at 04:24PM

छत्तीसगढ़ में दुर्ग जिले के पाटन में भाजपा नेताओं की गिरफ्तारी का विरोध बढ़ता ही जा रहा है। मुख्यमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र का घेराव करने गए सांसद विजय बघेल गिरफ्तारी के बाद बुधवार से ही वहां अनशन पर बैठ गए हैं। उन्होंने केस वापस नहीं होने तक अनशन जारी रखने का ऐलान किया है। दूसरी ओर गुरुवार को लोअर कोर्ट ने नेताओं की जमानत अर्जी खारिज कर दी।

दुर्ग सांसद विजय बघेल को मनाने की कोशिशें कल देर रात से ही जारी हैं, लेकिन वह उठने को तैयार नहीं हैं। वहीं भाजपा नेताओं का जमावड़ा भी बढ़ता जा रहा है।

दुर्ग सांसद विजय बघेल को मनाने की कोशिशें कल देर रात से ही जारी हैं, लेकिन वह उठने को तैयार नहीं हैं। वहीं भाजपा नेताओं का जमावड़ा भी बढ़ता जा रहा है। इसे देखते हुए पुलिस ने पूरे इलाके को छावनी में बदल दिया है। दोपहर में चरोदा भिलाई महापौर चंद्रकांता मांडले समेत अन्य नेता पहुंचे। वहीं देर शाम तक और भी कई बड़े नेता और कार्यकर्ताओं के मंडी परिसर पहुंचने की संभावना है।

सांसद बघेल बोले- बिना जांच एफआईआर, सरकार की दमनकारी नीति
सांसद बघेल के साथ आमरण अनशन में जिला पंचायत सदस्य हर्षा चंद्राकर, ठाकुर रणजीत सिंह और गायत्री साहू बैठे हुए हैं। सांसद बघेल ने कहा, फर्जी केस में साथियों की गिरफ्तारी की गई है। मैं उस आंदोलन का नेतृत्व कर रहा था। मेरे खिलाफ केस क्यों नहीं लगाते। शासन अपनी ओर से फर्जी केस को वापस लेकर खारिज करे। बिना जांच सीधे एफआईआर सरकार की दमनकारी नीति को दर्शाता है।

देर रात डॉक्टर भी सांसद बघेल की जांच करने के लिए पहुंचे। फिलहाल, उनकी स्थिति ठीक है। इस बीच अनशन स्थल पर भाजपा नेताओं का जमावड़ा बढ़ता जा रहा है।

तीनों नेताओं की जमानत याचिका कोर्ट से खारिज
जेल में बंद भाजपा के तीनों नेताओं सांसद प्रतिनिधि राजा पाठक, उत्तर पाटन मंडल अध्यक्ष लोकमणि चंद्राकर और जितेंद्र सेन की जमानत याचिका पाटन लोअर कोर्ट से खारिज हो गई है। उनके समर्थकों की मानें तो 15 अक्टूबर को सेशन कोर्ट दुर्ग में याचिका लगाई जाएगी। बताया जा रहा है कि जेल के अंदर से तीनों नेता अनशन पर बैठ गए हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
छत्तीसगढ़ के दुर्ग सांसद विजय बघेल गिरफ्तारी के बाद बुधवार से ही अनशन पर बैठ गए हैं। दूसरी ओर गुरुवार को लोअर कोर्ट ने तीनों भाजपा नेताओं की जमानत अर्जी खारिज कर दी। 


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3j4apam

0 komentar