भाजपा नेता अर्चना पोर्ते और ध्यान सिंह पोर्ते ने थामा कांग्रेस का हाथ; दोनों नेता मरवाही चुनाव में विधायक पद के रह चुके हैं उम्मीदवार , October 16, 2020 at 07:47AM

मरवाही उपचुनाव से पहले भाजपा को बड़ा झटका लगा है। भाजपा के पूर्व विधायक प्रत्याशी रही अर्चना पोर्ते और ध्यान सिंह पोर्ते कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। साल 2018 में अर्चना पोर्ते ने पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के खिलाफ चुनाव लड़ा था और वे दूसरे नंबर पर रही थीं। जबकि ध्यान सिंह पोर्ते भी साल 2008 में भाजपा प्रत्याशी रह चुके हैं ।

दोनों नेताओं ने गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल, संगठन प्रभारी अटल श्रीवास्तव, प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह, के सामने कांग्रेस ज्वाइन कर ली। वहीं भाजपा प्रत्याशी डॉ. गंभीर सिंह के नामांकन दाखिल करने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय सहित कई बड़े नेता मरवाही में मौजूद हैं।

जिन्होंने 20 साल आदिवासियों का हक मारा, उन्हें मरवाही से बाहर करेंगे
अर्चना पोर्ते ने कहा मरवाही में आज उपचुनाव चुनौती है। कुछ लोग 20 साल से आदिवासियों का हक और अधिकार छीनकर बैठे हैं। जो कहते हैं हम आदिवासी हैं, लेकिन उन्होंने 20 साल से मरवाही का विकास नहीं किया। मरवाही की जनता के बारे में नहीं सोचा। इन लोगों ने जज्बातों से खेला, उन्हें ठगा। इस चुनाव में उन्हें मरवाही से बाहर करेंगे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
मरवाही उपचुनाव से पहले भाजपा को बड़ा झटका लगा है। भाजपा के पूर्व विधायक प्रत्याशी रही अर्चना पोर्ते और ध्यान सिंह पोर्ते कांग्रेस में शामिल हो गए हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/33XZ1bW

0 komentar