रायपुर में हॉकी एकेडमी और बिलासपुर में एक्सीलेंस सेंटर को मिली मान्यता; भारतीय खेल प्राधिकरण ने दी स्वीकृति , October 17, 2020 at 06:22AM

छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद पहली बार खेलों को लेकर बड़ी उपलब्धि साथ जुड़ गई है। रायपुर में आवासीय हॉकी एकेडमी और बिलासपुर के बहतराई में एक्सीलेंस सेंटर शुरू होने जा रहा है। दोनों को ही भारतीय खेल प्राधिकरण ने मान्यता प्रदान कर दी है। इसको लेकर खेल एवं युवा कल्याण विभाग ने खेलो इंडिया योजना के तहत प्रस्ताव प्राधिकरण को भेजा था।

बिलासपुर के बहतराई में शुरू होने वाले एक्सीलेंस सेंटर में शुरुआत में तीन खेलों एथलेटिक, तैराकी और कुश्ती का चयन किया गया है। इसके लिए प्रदेश भर में प्रशिक्षकों के नए पदों के सृजन की कार्यवाही की जा रही है। वहीं रायपुर में आवासीय हॉकी अकादमी के लिए चयनित प्रशिक्षणार्थी खिलाड़ियों को छात्रावास, विद्यालय, किट, भोजन और सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

केंद्र सरकार भी दोनों केंद्रों के लिए देगी संसाधन
मान्यता मिलने से खेलों के विकास के लिए छत्तीसगढ़ के इन दोनों प्रमुख केंद्रों के लिए केंद्र सरकार की ओर से भी जरूरी संसाधन उपलब्ध कराए जाएंगे। छत्तीसगढ़ हॉकी अकादमी रायपुर के लिए भारतीय खेल प्राधिकरण और राज्य सरकार के खेल और युवा कल्याण विभाग के बीच जल्द ही एमओयू पर हस्ताक्षर होंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और खेल मंत्री उमेश पटेल ने सभी को बधाई दी है।

जून 2019 में हुआ था एस्ट्रो टर्फ हॉकी स्टेडियम का लोकार्पण
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बहतराई स्थित एस्ट्रो टर्फ हॉकी स्टेडियम का 17 जून 2019 को लोकार्पण किया था। साथ ही इसका नामकरण पूर्व मंत्री स्व. बीआर यादव के नाम पर करने की घोषणा की थी। इस स्टेडियम में 9वीं हॉकी इंडिया राष्ट्रीय सब जूनियर हॉकी प्रतियोगिता का शुभारंभ किया गया था। जिसमें 22 राज्यों के टीमों ने हिस्सा लिया था। वहीं बिलासपुर में स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स भी बनकर तैयार है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ये फोटो बिलासपुर के बहतराई स्थित एस्ट्रो टर्फ हॉकी स्टेडियम की है। जून 2019 में स्टेडियम में 9वीं हॉकी इंडिया राष्ट्रीय सब जूनियर हॉकी प्रतियोगिता का शुभारंभ किया गया था। जिसमें 22 राज्यों के टीमों ने हिस्सा लिया था। इसमें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी हॉकी का हुनर दिखाया।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3nWeP6N

0 komentar