बदहाल कांकेर: शहर की सड़कों की नहीं हो रही मरम्मत, जगह-जगह गड्ढे ही गड्ढे , October 23, 2020 at 04:00AM

शहर के नेशनल हाइवे के साथ अन्नपूर्णापारा मार्ग की सड़क काफी ज्यादा खराब हो चुकी है। कई जगह पर गड्ढ़े हो चुके हैं, जिससे आवागमन में काफी दिक्कत हो रही है। नेशनल हाइवे के साथ अन्नपूर्णापारा-बरदेभाठा मार्ग में कई जगह पर धूल उड़ रही है।
शहर के नेशनल हाइवे में भी सड़क की स्थिति खराब है। ग्राम माकड़ी से लेकर सिंगारभाठ तक की सड़क काफी ज्यादा खराब हो चुकी है। 2013 में 3 करोड़ 77 लाख 74 हजार की लागत से सड़क का डामरीकरण काम हुआ था। इसे नगरी के गोलछा कंस्ट्रक्शन ने बनाया। इसमें तीन वर्ष का अनुबंध था। इसके बाद विभाग ने रेनुअल मरम्मत के लिए कई बार प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा, लेकिन स्वीकृति नही मिली। नेशनल हाइवे विभाग ने इसके बाद पेच मरम्मत का काम ही किया। गत वर्ष भी पेच मरम्मत का काम हुआ था, लेकिन अभी सड़क की स्थिति काफी खराब हो गई है। ग्राम माकड़ी में तो कटाव के कारण किनारे भाग में गड्ढ़ा हो गया है। इससे आवागमन को लेकर खतरा बना हुआ है। ग्राम माकड़ी में ढाबा के पास भी सड़क उखड़ने से गिट्टी बाहर हो चुकी है।

मरम्मत कराई जाएगी
कांकेर लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता यूके मेश्राम ने कहा मुक्तिधाम तक काली मिट्टी है। जिससे सड़क खराब होती है।
अब पैचवर्क शुरू होगा
कांकेर नेशनल हाइवे विभाग के एसडीओ संतोष नेताम ने कहा पेच वर्क का काम शीघ्र शुरू हो जाएगा। इसमें नेशनल हाइवे में खराब सड़क की मरम्मत काम शुरू हो जाएगा। नंदनमारा से पेच वर्क का काम शुरू होगा। जब भी सड़क खराब होता है। तब मरम्मत काम कराया जाता है।

अन्नपूर्णापारा मार्ग में सड़क की स्थिति खराब
मई 2016 में शहर के कोमलदेव क्लब से चनार चौक तक 10 किमी में चौड़ीकरण का काम हुआ। इसमें नए सिरे से लोक निर्माण विभाग ने सड़क का चौड़ीकरण कर डामरीकरण किया। 10 किमी में सड़क निर्माण की स्वीकृति 26 करोड़ 45 लाख रुपए का था। यह नवंबर 2017 में बनकर तैयार हो गया, लेकिन हर वर्ष बारिश में शहर के कम्युनिटी हाल से पंडरीपानी के पुल तक सड़क में काफी ज्यादा गड्ढ़े हो जाते हैं और बारिश के बाद मौसम खुलने पर धूल उड़ता है। अभी भी कई जगह पर थोड़ी दूर के अंतराल में गड्ढ़े हो चुके हैं। कई लोगों ने तो धूल से बचने के लिए अपने घर व दुकानों में पॉलीथिन लगाकर ढका है। कई लोग अपने घर, दुकान के सामने सड़क पर धूल से बचाव के लिए पानी भी डाल रहे हंै। मार्ग में कई बड़े गड्ढ़ों के कारण बड़े वाहन एक ओर झुक जाते हंै। वार्ड के घुरऊ पटेल ने कहा धूल उडने से काफी दिक्कत हो रही है। बड़े वाहनों के आवागमन से खतरा बना हुआ है।

बरदेभाठा मार्ग की सड़क की हालत काफी खराब
बरदेभाठा वार्ड का सड़क भी खराब हो चुकी है। पंडरीपानी के दूध नदी पुल से इस तरफ ज्ञानी चौक तक कई जगह पर बड़े गड्ढ़े हो चुके हैं। मार्ग में आवागमन के दौरान बाइक चालक गिर भी चुके हैं। डीएमओ कार्यालय के पास तो सबसे बड़े गड्ढे हो गए हैं। सिविल लाईन से पंडरीपानी मार्ग के सड़क में भी कई जगह पर गड्ढ़े आधा किमी में हो चुके हैं। बारिश होने पर बड़े वाहनों के दौरान संकरे मार्ग में आवागमन को लेकर खतरा बढ़ जाता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Badhal Kanker: The streets of the city are not being repaired, pits everywhere


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/34j3whj

0 komentar