कांग्रेस की आपत्ति- मैदान में ही नहीं तो रेणु जोगी क्यों कर रही प्रचार; बेटे अमित का पलटवार- मां से डरती है कांग्रेस , October 24, 2020 at 03:54PM

कांग्रेस पार्टी की तरफ से जनता कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ शिकायत की गई है। मरवाही विधानसभा उपचुनाव के प्रेक्षक से यह शिकायत कांग्रेस नेता अशोक शर्मा ने की है। इसमें कहा गया है कि इस उपचुनाव में जनता कांग्रेस की हिस्सेदारी नहीं है, ना ही यह दल किसी प्रत्याशी को समर्थन दे रहा है। इसके बाद भी सभाएं हो रही हैं, रैली का आयोजन किया जा रहा है, जो कि नियमों के खिलाफ है। कांग्रेस ने मांग की है कि संबंधित नेताओं के खिलाफ जांच कर कार्रवाई की जाए।


मां से डर
इस शिकायती पत्र में जनता कांग्रेस पार्टी का नाम है, लेकिन किसी नेता के नाम नहीं है। इस पर जनता कांग्रेस प्रमुख अमित जोगी ने कहा है कि आज कांग्रेस ने मेरी मां के मरवाही के लोगों से मिलकर उनसे न्याय मांगने पर निर्वाचन अधिकारी से रोक लगाने के लिए बेहद हास्यास्पद आवेदन दिया। भूपेश बघेल जी के द्वारा मुझे चुनाव से बाहर कर देने के बाद भी कांग्रेस को मेरी मां का इतना डर क्यों सता रहा है? रेणू जोगी ने इसपर कहा कि लोकतंत्र है, और सबको अपनी बात कहने का अधिकार है।

इस वजह से हो रहा विवाद
दरअसल जनता कांग्रेस के नेता अमित और ऋचा जोगी के नामांकन रद्द होने के बाद से ही पार्टी आग बबूला है। अमित की मां विधायक रेणू जोगी लोगों से मुलाकात कर रही हैं। वो मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को इसका जिम्मेदार बताकर लोगों से बदला लेने को कह रही हैं। गांव-गांव जाकर पूर्व सीएम अजीत जोगी की जीवनी बांटी जा रही है। अमित जोगी न्याय यात्रा निकाल रहे हैं। यह सब कांग्रेस को रास नहीं आ रहा।


3 नवंबर को होनी है वोटिंग
मरवाही उपचुनाव को लेकर नामांकन की आखिरी तारीख 16 अक्टूबर तक थी। नॉमिनेशंस की स्क्रूटनी 17 अक्टूबर को हुई। 19 अक्टूबर तक उम्मीदवारों नाम वापस लेने की मोहलत दी गई थी। इसके बाद अब वोटिंग 3 नवंबर को होगी। वोट की गिनती यानी नतीजे 10 नवंबर को आएंगे। दरअसल, पिछले दिनों इस सीट से विधायक और प्रदेश के पहले सीएम अजीत जोगी का निधन हो गया। जिसके बाद यह सीट खाली थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फोटो मरवाही की है। बाजारों में जाकर लोगों से मिल रही हैं रेणू जोगी, इस दौरान वो अजीत जोगी पर आधारित किताब भी बांट रही हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3mhKNZF

0 komentar