जीपीएम नया जिला बनने के बाद पुलिस ने दशहरा पर पहली बार शस्त्र पूजन किया , October 26, 2020 at 05:36AM

नए जिले गौरेला पेण्ड्रा मरवाही में विजयादशमी का पहला पर्व पुलिस लाइन में मनाया गया। जहां एसपी सूरज सिंह परिहार ने अस्त्र-शस्त्र, वाहन और उपकरण की पूजा की।
बता दें कि बुराई पर अच्छाई की जीत का पर्व विजयादशमी पर अस्त्र शस्त्र की पूजा की परम्परा सनातन काल से चली आ रही है। भारतीय पुलिस आज भी इस संस्कृति को निभाते चली आ रही है। इसके चलते दशहरा के दिन अस्त्र-शस्त्र की पूजा हर साल करती है। छत्तीसगढ़ पुलिस का ध्येय वाक्य वैसे भी “परित्राणाय साधूनाम” है। इस अवसर पर एसपी ने भगवान से प्रार्थना की कि जिले में शांति व्यवस्था बनी रहे। लोगों में अमन चैन कायम रहे, उप चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हों। इस दौरान हर्ष फायरिंग भी की गई। इस मौके पर एएसपी, एसडीएम, रक्षित निरीक्षक, यातायात प्रभारी, पेण्ड्रा, गौरेला टीआई और रक्षित केंद्र का स्टाफ उपस्थित था। इसी प्रकार थाना पेण्ड्रा, गौरेला और मरवाही में भी अस्त्र शस्त्र की पूजा की कर क्षेत्र में लॉ एंड ऑर्डर कायम रहे। ऐसी कामना की गई।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Police made arms worship on Dussehra for the first time after GPM became a new district


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3moVRV8

0 komentar