अमित जोगी ने कहा- वैचारिक समझौता संभव नहीं, लेकिन पिता का अपमान करने वाली कांग्रेस को हराने के लिए जरूरी , October 31, 2020 at 09:55AM

छत्तीसगढ़ की राजनीति में उठापटक के बाद अब जुगलबंदी का दौर भी शुरू हो गया है। पहली बार छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जेसीसीजे) ने खुलकर भाजपा का समर्थन कर दिया है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने कहा, राष्ट्रीय पार्टी और क्षेत्रीय पार्टी में वैचारिक समझौता संभव नहीं है, लेकिन पिता अजीत जोगी का अपमान करने वाली कांग्रेस को हराने के लिए यह जरूरी है।

जेसीसीजे अध्यक्ष अमित जोगी ने बताया कि देर रात विधायक दल के नेता धरमजीत सिंह और सचिव राजेंद्र राय से बात हुई थी। उन्होंने भाजपा के प्रत्याशी गंभीर सिंह का समर्थन करने का निर्णय लिया है। प्रमोद शर्मा व अधिकांश पार्टी कार्यकर्ता भी अपनी सहमति दे चुके हैं। अमित जोगी ने कहा, उनकी इस संबंध में किसी भाजपा नेता से सीधे बात नहीं हुई है, पर पार्टी नेताओं की इस राय से वह पूरी तरह सहमत हैं।

पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का निर्णय सर्वमान्य और स्वभाविक लगता है
अमित जोगी ने कहा, वैचारिक रूप से क्षेत्रीय दल और राष्ट्रीय दल में स्थाई समझौता संभव नहीं है, बशर्ते कि हमारी स्वराज की भावना का सम्मान करे। जब कांग्रेस ने स्वर्गीय पिता अजीत जोगी के अपमान को अपने प्रचार का मुख्य केंद्र-बिंदु बना लिया है और मेरे परिवार को चुनाव से छलपूर्वक बाहर कर दिया है। ऐसी परिस्थिति में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का निर्णय स्वाभाविक और सर्वमान्य लगता है।

अजीत जोगी का अपमान करने वाली कांग्रेस को सबक सिखाने का अच्छा मौका
उन्होंने कहा, उम्मीद है कि ये उपचुनाव न्यायपालिका की कसौटी में एक साल के भीतर स्थगित हो जाएगा। पिता के स्वर्गवास के बाद उन्हें अपमानित कर रहे कांग्रेसियों के विरुद्ध वोट और परिवार को न्याय देने की अपील करता हूं। जोगी जी के अहसान को तेरहवी के पहले ही सत्ता की लालच में भूल गए, कांग्रेसियों को सबक सिखाने का इससे बेहतर मौका नहीं मिलेगा।

जनता से लूटा पैसा आप जरूर लें, लेकिन वोट कांग्रेस के खिलाफ दें
अमित जोगी ने कहा, पार्टी की सुप्रीमो विधायक रेणु जोगी भी इस बात से सहमत हैं। ऐसे में मरवाही की जनता से कांग्रेस के खिलाफ वोट करने की अपील करता हूं। जनता का लूटा पैसा, शॉल, बिछिया, दारू भले कांग्रेस से ले लें, लेकिन वोट पिता अजीत जोगी का अपमान करने वालों के खिलाफ ही दें। कांग्रेस की जमानत जब्त कराना उद्देश्य होना चाहिए। सही मायने में यही अजीत जोगी का असली सम्मान होगा।

विधायक धरमजीत सिंह ने बंद कमरे में और राय ने मंच पर की थी रमन सिंह से चर्चा
मरवाही की राजनीति में ऊंट किस करवट बैठेगा, ये तो चुनाव नतीजे बताएंगे। अभी नए समीकरण बन गए हैं। गुंडरदेही के पूर्व विधायक आरके राय ने गुरुवार शाम ही रमन सिंह के मंच पर पहुंचकर समर्थन देने और भाजपा ज्वाइन करने की घोषणा कर दी थी। फिर रात में विधायक धरमजीत के साथ रमन सिंह और की बंद कमरे में चर्चा हुई। इसके बाद जोगी परिवार को भाजपा का खुलकर समर्थन कर दिया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जेसीसीजे) ने खुलकर भाजपा का समर्थन कर दिया है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने कहा, राष्ट्रीय पार्टी और क्षेत्रीय पार्टी में वैचारिक समझौता संभव नहीं है, लेकिन पिता अजीत जोगी का अपमान करने वाली कांग्रेस को हराने के लिए यह जरूरी है। 


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2HPID4Z

0 komentar