अभनपुर के उस गांव में भाजपा का विरोध प्रदर्शन जहां किसान ने की थी आत्महत्या, मुख्य सचिव के दफ्तर को धान से भरने की तैयारी , November 02, 2020 at 05:40AM

हाल ही में अभनपुर के पिपरौद गांव में एक किसान ने खुदकुशी कर ली थी । उसी किसान के गांव में भारतीय जनता पार्टी ने रविवार को खेत सत्याग्रह किया। भाजपा के अभियान की अगुवाई पूर्व कृषि मंत्री चंद्रशेखर साहू कर रहे हैं। इस अभियान के तहत खेत में भाजपा नेताओं ने धरना दिया और सरकार से किसानों के प्रति उदासीन रवैये को खत्म कर संवेदनशीलता दिखाने की बात कही। खेत सत्याग्रह में आत्महत्या करने वाले किसान के परिवार के लोगों के साथ भाजपा के किसान नेता संदीप शर्मा, गौरीशंकर श्रीवास भी शामिल हुए। इस सत्याग्रह के दौरान फैसला लिया गया कि आत्महत्या करने वाले मृतक किसान के परिवार को मुआवजा नहीं मिलने पर मंत्रालय जाकर मुख्य सचिव के केबिन को धान से भर दिया जाएगा।

मृत किसान के परिवार के सदस्यों ने भी इस आंदोलन में हिस्सा लिया।


गौरी शंकर श्रीवास ने कहा कि इसके लिए हम तारीख का एलान नहीं कर रहे। मगर वक्त रहते अगर सरकार कोई कदम नहीं उठाती तो हम यह करने पर मजबूर होंगे। सरकार के अधिकारियों के पास रायपुर के बूढ़ातालाब के सौंदर्यीकरण को बार-बार जाकर देखने का समय है। मगर किसानों का दर्द सुनने समझने के लिए वक्त नहीं है।
अब सरकार को लगातार इन मांगों को पूरा करने के लिए घेरा जाएगा। इनमें प्रमुख मांग धान खरीदी जल्द से जल्द शुरू करने, पीड़ित के परिजन में एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए, प्रति एकड़ 20 क्विंटल धान की खरीदी की जाए, बोनस राशि एकमुश्त दी जाए, अल्पकालीन व मध्यकालीन कृषि ऋण माफ किया जाए मंडी या मंडी क्षेत्र में धान की खरीदी न्यूनतम समर्थन मूल्य से नीचे ना खरीदना सुनिश्चित किया जाए हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फोटो अभनपुर के पिपरौद गांव की है। यहां भाजपा के अस प्रदर्शन के बाद अब पार्टी सरकार को किसानों के मुद्दे पर घेरने की पूरी तैयारी में है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3oGp93r

0 komentar