तीसरे बच्चे का भी शव निकाला गया, एक दिन पहले दोस्त का जन्मदिन मनाने गए थे नदी की तरफ, डूबने से तीन की मौत , November 09, 2020 at 06:45AM

कोंडागांव के संबलपुर में हुए हादसे में रविवार को तीसरे बच्चे का भी शव निकाल लिया गया। यह अपने दोस्तों के साथ यहां जन्म दिन की पार्टी मनाने शनिवार को आया था। नदी मे डूबने से तीनों दोस्तों की मौत हो गई। सभी बच्चे चावरा हायर सेकेंडरी स्कूल में पढ़ाई कर रहे थे। इनकी उम्र 13 से 15 साल के बीच है। 8 दोस्तों की टोली यहां पहुंची थी। इनमें से नदी में नहाते हुए तीन बच्चे गहरे हिस्से में चले गए और डूबने लगे। बाकी के बच्चों ने ग्रामीणों को जानकारी दी, मगर तब तक देर हो चुकी थी।

जन्मदिन पर ही मौत
शनिवार को दो बच्चों का शव निकाला जा चुका था। इनके नाम कमरान अंसारी व आमोक सिंह ठाकुर था। इनका एक साथी वत्सल भी डूब गया था, रविवार को इसके शव को पानी से बाहर निकाला गया। यह सभी आमोक का ही जन्म दिन सेलीब्रेट करने नदी किनारे आए थे। अमोक की भी इस हादसे में मौत हो गई। जन्म दिन के दिन ही परिवार में मातम छा गया।


समय पर नहीं मिली मदद
सुनसान से इलाके में बच्चे अपने साथियों को डूबता देख चिल्लाने लगे । कुछ देर बाद जब लोग पहुंचे तो मदद मिली। लोगों ने घटना के बारे में पुलिस को भी बताया 5 घंटे का वक्त गोताखोरों की टीम को लाने में लग गया। स्थानीय लोगों ने ही इस मामले में पहला शव कामरान का निकाला था।

गोताखारों के अलावा गांव के लोगों ने भी मदद की।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रोजागारी पारा निवासी मृतक कमरान अंसारी व आमोक सिंह ठाकुर अपने माता-पिता की इकलौती संतान थे। कमरान के पिता की मौत तीन महीने पहले ही हुई थी। डूबने वालों में शामिल सरगीपाल निवासी वत्सल सेन की एक बहन है। बच्चों का परिवार इस त्रासदी से बुरी तरह हिल चुका है। क्षेत्र के लोग नदी पर आने-जाने वालों पर निगरानी की मांग पुलिस से कर रहे हैं ताकि ऐसी घटना और ना हो।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फोटो कोंडागांव की है, शवों को देखने के लिए ग्रामीण नदी किनारे बैठे रहे।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2I6qdNF

0 komentar