खेलने के दौरान प्लांट में गई बॉल वापस लेने पहुंचे बच्चे की करंट से मौत, परिजनों ने सड़क जाम कर किया बवाल , November 12, 2020 at 05:40AM

बीरगांव स्थित एक प्लांट में करंट लगने से बच्चे की मौत के बाद परिजनों ने बुधवार दोपहर जमकर हंगामा किया। उन्होंने प्लांट के मालिक पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कार्रवाई और मुआवजे की मांग को लेकर रायपुर-बिलासपुर हाइवे पर जाम लगा दिया। उधर, जाम और हंगामे की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मृत बच्चे के परिजनों को कार्रवाई का आश्वासन दिया जिसके बाद जाम हटाया गया।

दरअसल बीरगांव इलाके में मंगलवार को खेलने के दौरान 10 साल के रौनक नाम के बच्चे का बॉल प्लांट के अंदर चला गया। इसके बाद बच्चा बॉल लाने के लिए प्लांट के अंदर जाने की कोशिश में करंट की चपेट में आ गया। घायल बच्चे को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां बुधवार को उसने दम तोड़ दिया। मासूम की मौत के बाद बच्चे के परिजन और क्षेत्र के लोगों ने हंगामा करना शुरू कर दिया।

लोगों ने बताया कि पहले भी इस तरह के हादसे हो चुके हैं इस क्षेत्र में।

प्लांट का मालिक फरार

मृत बच्चे के परिजन और स्थानी लोगों ने बताया कि जिस प्लांट में हादसा हुआ उसका मालिक फरार है और पुलिस भी उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है। एनएसयूआई नेता हनी बग्गा ने बताया कि हादसा बीरगांव स्थित प्लांट प्रबंधन की लापरवाही से हुआ है। जिस प्लांट में हादसा हुआ वहां तार और रॉड बनाने का काम होता है। बिजली के खुले तारों की चपेट में आने से बच्चे की मौत हुई है। हमने प्लांट प्रबंधन और बिजली विभाग को इसकी जानकारी दी थी, मगर किसी ने ध्यान नहीं दिया।

काफी देर तक समझाने के बाद लोग माने, अब पुलिस घटना की जांच कर रही है।

उधर, प्रदर्शन के दौरान स्थानीय जनप्रतिनिधी समेत गुस्साए लोगों ने हाइवे पर ट्रैफिक रोक दिया। सभी की मांग थी कि पीड़ित परिवार को न्याय मिले और दोषियों को सजा। काफी देर तक हंगामा होता रहा। स्थानीय पुलिस लोगों को यहां से हटने के लिए कहती रही मगर लोग नहीं माने। बाद में पुलिस ने इस मामले में एक्शन लेने का आश्वासन दिया तो बच्चे के पिता मनहरण समेत अन्य राजी हुए।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Protests by people on the highway in Birgaon Uproar after child's death Raipur Police Chhattisgarh


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3keFTv6

0 komentar