गांजा का मुख्य सप्लायर पूर्व सरपंच ओडिशा से गिरफ्तार, तस्करों की मदद पहुंची पुलिस , November 17, 2020 at 04:00AM

चार राज्यों के युवाओं के लिए गांजा की पूर्ति करने वाले अंतरराज्यीय गांजा सप्लायर को भानपुरी पुलिस ने पकड़ा है। यह पहला मौका है जब पुलिस ने तस्करों के साथ-साथ गांजा की सप्लाई करने वाले को भी गिरफ्तार किया है।
मामले में खास बात यह है कि गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने पूरी प्लानिंग की और एक टीम को ओड़िशा भेजकर संवेदनशील इलाके व्यापारीगुड़ा से सप्लायर को गिरफ्तार किया। सप्लायर को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने कई तस्करों से पूछताछ की और इसके बाद उसे गिरफ्तार किया। पुलिस अफसरों के अनुसार करीब दो महीने पहले भानपुरी पुलिस ने एक इनोवा गाड़ी से गांजा बरामद किया था। इसके बाद पकड़े गये तस्करों से पूछताछ की गई तो उन्होंने गांजा ओड़िशा के व्यापारीगुड़ा से लाना बताया, इसके बाद कुछ अन्य मामलों में भी पकड़े गये तस्करों ने गांजा उसी इलाके से लाने की बात कही। सप्लायर के तौर पर सुकादेव नायक निवासी कोरापुट उड़ीसा से गांजा खरीदकर लाने की बात कही। सप्लायर के तौर पर सुकादेव के नाम आईडेंटीफाईड होने के बाद उसकी गिरफ्तारी की प्लानिंग की गई और उसे
गिरफ्तार किया गया।
पूर्व सरपंच की राजनीतिक पहुंच भी आंध्र-ओडिशा के बार्डर से गांजा लाता था: भानपुरी पुलिस को आरोपी सुकादेव नायक ने बताया कि वह चार राज्यों में गांजा की आपूर्ति आन्ध्रप्रदेश- उड़ीसा राज्य की सीमा के जंगलों से गांजा लाकर कमीशन के आधार पर करता था। आरोपी पूर्व में अपने क्षेत्र का सरपंच था।

पुलिस ने टीम को भेजा ओड़िशा के व्यपारीगुड़ा तस्करों का गढ़ बेहद संवेदनशील इलाका
सप्लायर के तौर पर सुकादेव का नाम आईडेंटीफाईड होने के बाद उसकी लोकेशन ओड़िशा के व्यापारीगुड़ा में ट्रेस हुई। यह इलाका हर मामले में संवेदनशील है और गांजा उगाने वाले से लेकर सप्लायरों का गढ़ माना जाता है। इस खतरनाक इलाके में भानुपरी थाने की एक विशेष टीम को भेजा गया। हथियारों से लैस टीम सादी वर्दी में ही इस इलाके में गई और रातोंरात सुकादेव नायक को गिरफ्तार कर वापस भानपुरी लौटी। मामले की गंभीरता को इस बात से समझा जा सकता है कि टीम का नेतृत्व खुद डीएसपी उदयन बेहार ने किया और ओड़िशा के व्यापारीगुड़ा में गिरफ्तारी के दौरान थाना प्रभारी टामेश्वर चौहान मौजूद रहे। टीम में उपनिरीक्षक राजेन्द्र प्रसाद, प्रआर नितेश मेश्राम, आरक्षक पंचम उइके, आरक्षक संदीप, आरक्षक प्रेमुलाल वर्मा की मुख्य भूमिका रही।

चार राज्यों के युवाओें के बीच खपवा रहा था गांजा
व्यापरीगुड़ा से सुकादेव को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने उससे कड़ी पूछताछ की। पूछताछ में उसने पुलिस को बताया कि वह पिछले तीन सालों से चार राज्यों में गांजा की सप्लाई अलग-अलग तस्करों के माध्यम से करवा रहा है। उसने पुलिस को बताया कि मध्यप्रदेश, उत्तरप्रेदश, राजस्थान, बिहार जैसे राज्यों के युवा ओड़िशा के गांजा के शौकीन हैं। पिछले तीन सालों में चार राज्यों के युवाओं के बीच वह करीब दस टन गांजा खपा चुका है। इन चार राज्यों में 5 करोड़ रुपये से ऊपर की कीमत का गांजा बेच चुका है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Former sarpanch, the main supplier of cannabis, arrested from Odisha, police arrived to help smugglers


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2K4xUUX

0 komentar