पंचायत ने ऐसा पीएम आवास बनाया जो रहने लायक नहीं , November 25, 2020 at 04:00AM

छिंदगढ़ ब्लॉक के ग्राम पंचायत बकुलाघाट में वृद्धा लंबे समय से प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान के लिए भटक रही है। बकुलाघाट के कलारपारा की रहने वाली 65 साल की हिड़मे को 2016-17 में आवास को मंजूरी मिली थी। इसके बाद उसके लिए मकान तो ग्राम पंचायत ने बना दिया, लेकिन मानकों की अनदेखी कर दी गई है।
ऐसे में अब तक वृद्धा अपने दो बच्चों के साथ पुराने कच्चे मकान में ही रह रही है। उन्होंने ग्राम पंचायत पर आरोप लगाते कहा है कि जिस मानक पर मकान बनाया जाना था, उसका पालन ही नहीं किया गया है। पीएम आवासों की स्थिति का जायजा लेने इलाके में अधिवक्ता दीपिका शोरी पहुंचीं। उन्होंने बताया कि ये सिर्फ हिड़मे का ही मकान नहीं, बल्कि अधिकांश मकानों के साथ यही स्थिति है। इस पर शोरी ने छिंदगढ़ के जनपद सीईओ सीएल देवांगन से मामले की शिकायत की तो उन्होंने मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Panchayat built a PM house that is not worth living


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/361ThyQ

0 komentar