भगत सिंह चौक का सिस्टम सबसे बढ़िया पर यहीं सबसे ज्यादा लोग तोड़ रहे ट्रैफिक नियम , November 27, 2020 at 05:27AM

प्रमोद साहू | राजधानी के प्रमुख और बड़े चौराहों की कैमरे से मॉनीटरिंग में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। शहर के सबसे व्यवस्थित और बड़े चौराहों पर ही सबसे ज्यादा ट्रैफिक नियम तोड़े जा रहे हैं। शहीद भगत सिंह चौक इसमें नंबर-1 है। हालांकि यही चौराहा राजधानी का सबसे सिस्टम से बना है और यहीं राेज 10 हजार लोग ट्रैफिक नियम तोड़ रहे हैं। कोई रेड सिग्नल होने पर स्टॉप लाइन का उल्लंघन कर रहा है तो कोई बिना हेलमेट गुजर रहा है। रेड सिग्नल होने पर भी यहां से लोग चौक पार करने में गुरेज नहीं कर रहे हैं, जबकि वीआईपी तिराहा ट्रैफिक नियमों का पालन करने में अव्वल है।
हालांकि सभी बड़े चौराहों पर रोजाना लाउडस्पीकर से नियमों का पालन करने की अपील की जा रही है। सिग्नल पर गाड़ी स्टॉप लाइन पर न खड़े करने को कहा जा रहा है। हेलमेट और सीट बेल्ट का उपयोग की हिदायत दी जा रही है। सिग्नल में खड़े लोग सुनते हैं और नियम तोड़ते हुए निकल जाते हैं। ट्रैफिक पुलिस ने इन चौराहों पर लगे कैमरों के फुटेज खंगाले तब सच्चाई सामने आई। डीएसपी सतीश ठाकुर ने बताया कि शहर के चौक-चौराहों पर लगे कैमरों की जांच कर रही है। फुटेज का विश्लेषण किया जा रहा हैं कि किस चौक पर ट्रैफिक का कितना दबाव है। कहां-कहां पर ट्रैफिक का उल्लंघन किया जा रहा हैं। फुटेज के आधार पर आकड़ा तैयार किया जा रहा है।

एसआरपी : हेलमेट नहीं पहनते
शहीद भगत सिंह(एसआरपी) चौक पर रोजाना 70 हजार से ज्यादा गाड़ियां गुजरती है। इसमें से 9995 वाहन के चालक ट्रैफिक नियम का पालन नहीं कर हैं। सबसे ज्यादा बिना हेलमेट दुपहिया वाले चौक से गुजरते हैं। चौक से गुजरने वाले 5 हजार से ज्यादा दुपहिया वाले हेलमेट नहीं लगाते हैं।
कालीबाड़ी चौक : टूट रहे सिग्नल
कालीबाड़ी चौक पर रोजाना 55 हजार से ज्यादा गाड़ियां गुजरती हैं। इनमें से 8555 गाड़ी वाले नियम तोड़ते हुए गुजरते हैं। यहां पर सबसे ज्यादा सिग्नल तोड़ा जा रहा है। सिग्नल रेड होने के बाद भी लोग चौक पार करते हैं। सिग्नल यलो होने पर लोग गाड़ी नहीं रोकते निकल जाते हैं।
देवेंद्रनगर चौक : रांग साइड
देवेंद्र नगर चौक पर रोजाना ट्रैफिक का दबाव 65 हजार से ज्यादा है। इसमें से 7,515 गाड़ी वाले नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं। चौक पर अंबेडकर अस्पताल जाने या होटल बेबीलोन जाने के लिए लोग रांग साइड से आते हैं। सुबह और शाम को सिग्नल सबसे ज्यादा तोड़ा जा रहा है। यहां पर यू टर्न करने की जगह नहीं है।

खजाना चौक : 9 हजार वाहन तोड़ रहे रूल
खजाना (कलेक्टोरेट) चौक पर ट्रैफिक का दबाव 60 हजार से ज्यादा है। इनमें 8,680 गाड़ी वाले ट्रैफिक का पालन नहीं कर हैं। इसमें अधिकांश लोग स्टॉप लाइन का ही पालन नहीं कर रहे। सिग्नल रेड होने पर स्टॉप लाइन और जेब्रा क्रॉसिंग में खड़ी करने वाले भी कम नहीं।

तेलीबांधा चौक : सिग्नल जंप ज्यादा
तेलीबांधा चौराहे से रोजाना 1 लाख से ज्यादा गाड़ियां गुजरती हैं। इसमें से 5,635 गाड़ी वाले रोजाना नियम तोड़ रहे हैं। इस चौक पर ज्यादातर वाहन चालक सिग्नल का पालन नहीं करते हैं। रेड सिग्नल होने पर भी चौक पार कर लेते हैं। सिग्नल जंप करने वालों में लग्जरी कार वालों के साथ बस व ऑटो वाले भी शामिल हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
खजाने तिराहे के कैमरे में कैद रॉग साइड से चौक पार कर रहा बाइक सवार।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/33iIOx2

0 komentar