दो दिन से हो रही है हल्की बारिश, खलिहान में रखा धान बचाना मुश्किल , November 28, 2020 at 04:00AM

निवार तूफान के असर से खलिहान में रखा किसानों का धान खराब हो रहा है। एक तिहाई धान की कटाई का काम क्षेत्र में पूरा हो गया है। कटाई के बाद किसान धान को मिंजाई के लिए खलिहान में रखे हुए हैं जिसको बचना अब किसानों के लिए मुश्किल हो गया है। तूफान की वजह से दंतेवाड़ा क्षेत्र में दो दिनों से बादल छाए हुए हैं। गुरुवार शाम व शुक्रवार दोपहर दंतेवाड़ा के कई हिस्सों में हल्की बारिश भी हुई जिससे खलिहानों में रखा धान भीग गया।
दंतेवाड़ा जिले में इस बार बारिश देर से होने की वजह से धान की फसल भी देर से तैयार हुई और अब किसानों को मौसम की मार भी झेलनी पड़ रही है। आधे से अधिक किसानों की सालभर की कमाई अभी खलिहानों से घर तक नहीं पहुच पाई है। किसान रामधर, सुखमन, रामसिंग ने बताया खेतों से धान खलिहान तक तो पहुंच गया है लेकिन मौसम की वजह से अब धान की मिंजाई का काम रुक गया है। कृषि विस्तर अधिकारी बीआर कंगे ने बताया कि ज्यादातर किसानों ने मिंजाई का कार्य पूर्ण कर लिया है, एक तिहाई किसानों की धान की फसल घर पहुंच गई है, ज्यादा बारिश नहीं हुई इसलिए अभी किसानों के लिए राहत है।

ठंड से बचने लोग ले रहे अलाव का सहारा
तूफान का असर शीतलहर के साथ हो रही रुक रुक कर हल्की बारिश जिससे ठंड और भी बढ़ गई है। ठिठुरन भरी ठंड से बचने लोग आग का सहारा ले रहे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Light rain has been happening for two days, it is difficult to save paddy in the barn


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3lj3fjz

0 komentar