दो महिला नक्सलियों ने किया सरेंडर , November 28, 2020 at 04:00AM

मर्दापाल थाना क्षेत्र के ग्राम बेड़मा की निवासी दो महिला नक्सलियों ने शुक्रवार को एसपी सिद्धार्थ तिवारी के सामने सरेंडर कर दिया। दोनों महिला नक्सली 1 लाख की इनामी हैं। दोनों महिला नक्सलियों में से एक आमदई एलजीएस के साथ वर्ष 2017 से दलम सदस्य के रूप में जुड़कर सक्रिय थी।
कोण्डागांव, नारायणपुर व बीजापुर की सरहद पर स्थित ग्राम तुसवाल की पहाड़ी क्षेत्र में प्रशिक्षण हासिल किया और तब से आमदई एलजीएस के साथ ग्राम तुमड़ीवाल, कुदुर, आलवाड, किलम, बेचा, तुसवाल आदि ग्रामों में नक्सल गतिविधियों में सक्रिय रही। वहीं दूसरी महिला नक्सली ने 2013 में तत्कालिक जनताना सरकार मिलिशिया कमाण्डर जैतराम कोरार्म के दबाव में आकर मिलिशिया सदस्य के रूप में नक्सलियों के साथ काम किया। ग्राम तुसवाल के पहाड़ी इलाकों में प्रशिक्षण प्राप्त कर भानपुरी, कुदुर, तुमड़ीवाल क्षेत्र में बड़े कैडर के नक्सलियों को सहयोग देने और तुमड़ीवाल-किलम इलाकों में स्थानीय दलम के साथ नक्सल गतिविधियों में सक्रिय रही।

नक्सलियों के दबाव में संगठन में शामिल हुई थीं
पूछताछ के दौरान सामने आए तथ्यों से पता चला है कि दोनों महिला नक्सलियों ने क्रमशः वर्ष 2013 और 2017 में माओवादियों से जुड़ने के बाद वापस घर आकर समान्य जीवन जीने का प्रयास भी किया था, परन्तु तुमड़ीवाल क्षेत्र में सक्रिय नक्सलियों द्वारा दबावपूर्वक पुनः इन्हें अपने साथ ले जाकर काम कराया गया। नक्सलियों के शोषण से क्षुब्ध होकर आत्मसमर्पण किया है। एसपी ने उनके इस कदम की सरहना की।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3q7zXYX

0 komentar