पुरानी सोसायटियों में कटने लगे टोकन, जानकारी नहीं मिली इसलिए भीड़ कम , November 29, 2020 at 05:35AM

धान खरीदी एक दिसंबर से शुरू हो जाएगी। शुक्रवार से धान खरीदी के लिए टोकन कटना शुरू होना था, लेकिन साफ्टवेयर अपडेट नहीं होने से किसी भी सोसायटी में टोकन नहीं कट पाया, अब शनिवार को दोपहर को 17 सोसाइटियों में खरीदी के लिए टोकन कटना शुरू हो गया। शाम 4 बजे तक स्थिति में 17 केन्द्रों में 34 किसानों का 1342 क्विंटल धान खरीदी के लिए टोकन कटा।

दोपहर को टोकन काटने की जानकारी किसानों को नहीं थी, इसकी वजह से अधिकतर किसान टोकन कटाने नहीं पहुंचे, रविवार को छुट्‌टी होने की बावजूद टोकन काटने का फैसला किया गया है। इस संबंध में शनिवार की देर शाम को कलेक्टर भीम सिंह ने नगर निगम के ऑडिटोरियम में सोसाइटी संचालकों और मैनेजरों की एक बैठक ली।

यह परेशानी सामने आ रही है- रायगढ़ जिले में पुराने 79 सोसाइटी थी, अब बढ़कर 110 हो गई हैं। पुरानी 79 सोसाइटी तो ऑनलाइन में अपडेट हैं, लेकिन 31 सोसाइटी जो नई बनी हैं, उनका रिकार्ड साफ्टवेयर में अपडेट नहीं हो पाया है। इससे खरीदी के लिए टोकन नहीं कट पा रहा है।

टोकन की वैध एक सप्ताह की होगी। यह परेशानी शनिवार की दोपहर तक बनी हुई थी। पुरानी समितियों में जहां पर टोकन कटा था, वहां पर दो-तीन किसानों ने धान बेचने के लिए पहुंच सके थे, किसानों को जानकारी नहीं होने की वजह से किसान केद्रों तक नहीं पहुंचे।

साॅफ्टवेयर की दिक्कत

कुछ सोसायटियों में खरीदी के लिए टोकन काटना शुरू कर दिया है, लेकिन कई सोसायटियों में आज भी साॅफ्टवेयर प्राब्लम की समस्या बनी हुई है। उस पर रायपुर स्तर पर अभी भी काम किया जा रहा है। सरकार ने छुट्‌टी के दिनों में भी टोकन काटने के निर्देश दिए हैं। साफ्टवेयर ठीक होने के बाद टोकन काटा जाएगा।
सुरेन्द्र गौड़, सहायक पंजीयक, सहकारिता विभाग



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2JfR9uE

0 komentar